ढाका (रॉयटर्स)।  बांग्लादेश में हुई ट्रेन दुर्घटना में राहत व बचाव का काम जारी है। अधिकारियों के मुताबिक हताहतों संख्या बढ़ सकती है। ट्रेन दुर्घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति शोक जताया है।

प्रत्यक्षदर्शी ने बयां किए हालात

ट्रेन में सफर कर रहे मोहम्मद मुस्लिम ने रॉयटर्स को फोन पर बताया कि 'जब मैं ट्रेन से बाहर आया, तो चारों ओर शव बिखरे नजर आ रहे थे।' जिस समय दुर्घटना हुई ज्यादातर यात्री नींद में थे।

बढ़ सकती हताहतों की संख्या

जिला अधिकारी हयात उद दौला ने टेलीफोन पर रॉयटर्स को बताया कि 'अब तक 16 शव निकाले जा चुके हैं। अभी राहत व बचाव का काम जारी है व हताहतों की संख्या बढ़ सकती है। 40 घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, इनमें से कई की स्थिति गंभीर है।

पीएम ने जताया दुख

प्रधानमंत्री शेख हसीना ने दुर्घटना में मृतकों के प्रति शोक जताया व दुख व्यक्त किया है, उन्होंने अधिकारियों और जनता से पीडि़तों की मदद करने का आग्रह किया है।

दुर्घटना की जांच के आदेश

यह तुरंत पता नहीं चल सका कि दोनों ट्रेनें कैसे एक ही पटरी पर आ गईं, सरकार ने दुर्घटना की जांच के आदेश दिए हैं। एक पुलिस अधिकारी श्यामल कांति दास ने संवाददाताओं को बताया कि 'संभव है किसी एक ट्रेन ने सिग्नल तोड़ा हो जिसकी वजह से यह दुर्घटना हुई। बांग्लादेश में अक्सर रेल दुर्घटनाएं होती हैं, कई बार क्रॉसिंग पर अनदेखी के कारण या रेल पटरियों की ख्राब हालत के चलते।

Posted By: Shweta Mishra

International News inextlive from World News Desk