- आईजी गढ़वाल रेंज ले रहे डेली अपडेट, एसएसपी खुद जुटे खुलासे में

- पुलिस की 8 टीमें पहले से जुटी थीं, अब 12 टीमें और लगाईं

देहरादून :

प्रेमनगर में ज्वैलरी शॉप में हुई लूट के खुलासे के लिए दून पुलिस ने पूरी जान झोंक दी है. पुलिस की 8 टीमें पहले से लूटेरों की तलाश में वेस्ट यूपी व एनसीआर में दबिश में जुटी हैं. फ्राइडे को एसएसपी के निर्देश पर 12 और पुलिस की टीमें तफ्तीश में लगा दी गई हैं. अब कुल 20 टीमें लूट के मामले के खुलासे में जुटी हुई हैं. पुलिस टीमें वेस्ट यूपी, दिल्ली और एनसीआर में करीब पौने दो सौ बदमाशों की कुंडली खंगाल चुकी हैं. बताया जा रहा है पुलिस के हाथ कुछ अहम इनपुट लगे हैं. दावा है कि जल्द ही वारदात का खुलासा किया जाएगा.

वेस्ट यूपी में पुलिस की दबिशें

पे्रमनगर में मंडे को ज्वैलरी शॉप में लूटकांड के खुलासे को लगी टीमों की कमान एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने खुद संभाल रखी है. एसएसपी हर दिन वर्कआउट में लगी टीमों से फीडबैक लेने के साथ उन सभी संभावित तौर-तरीकों को अमल में लाने को निर्देशित कर रहे हैं, जिससे बदमाशों पर शिकंजा कसा जा सके. सूत्रों की मानें तो मंडे की रात से ही पुलिस की 8 टीमें वेस्ट यूपी, दिल्ली और एनसीआर में दबिश दे रही है. दून पुलिस संभल, बिजनौर, मुरादाबाद, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर व मेरठ में अब तक करीब पौने दो सौ बदमाशों की कुंडली खंगाल चुकी है. इनमें से कुछ पर पुलिस को प्रेमनगर की लूट में शामिल होने का शक है. दावा किया जा रहा है कि जल्द ही पुलिस आरोपियों तक पहुंच जाएगी.

12 और टीमें लगाई तफ्तीश में

लूट कांड के बदमाशों को दबोचने के लिए एसएसपी ने फ्राइडे को पुलिस की 12 और टीमें तफ्तीश में लगा दी हैं. इन टीमों को शहरभर में लगे सीसीटीवी कैमरा फुटेज खंगालने में लगाया गया है. पुलिस को अंदेशा है कि बदमाश लूट से पहले दून में थे तो उन्होंने पूरा नेटवर्क बनाकर वारदात को अंजाम दिया होगा. ऐसे में बदमाश दो से ज्यादा हो सकते हैं. इसे देखते हुए चप्पे-चप्पे पर लगे सीसीटीवी कैमरा फुटेज खंगाले जा रहे हैं.

आईजी कर रहे मॉनिटरिंग

लूटकांड को लेकर गढ़वाल आईजी अजय रौतेला पुलिस अफसरों से डेली अपडेट ले रहे हैं. उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम को मिलने वाली हर इन्फॉर्मेशन को सीरियसली लेने का निर्देश दिए है, साथ ही हरिद्वार और गढ़वाल रेंज के अन्य जिलों के एसएसपी व एसपी को भी निर्देशित किया गया है.