गावड़ी प्लांट पर कूड़ा का निस्तारण न करने पर प्रदूषण विभाग ने ठोंका जुर्माना

मेरठ पहुंचे पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण के अध्यक्ष ने कसे अफसरों के पेंच

एनएचएआई पर गाजियाबाद के क्षेत्रीय अधिकारी ने ठोंकी 90 लाख की पैनाल्टी

Meerut। उप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) के क्षेत्रीय कार्यालय मेरठ ने नगर निगम पर 24 लाख रुपए की पेनाल्टी ठोंकी है। नगर निगम द्वारा गावड़ी स्थित कूड़ा निस्तारण प्लांट पर कूड़े का निस्तारण न करने पर यह पेनाल्टी लगाई गई है। जबकि यूपीपीसीबी के गाजियाबाद क्षेत्रीय कार्यालय ने नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया पर 90 लाख रुपए की पेनाल्टी पॉल्यूशन फैलाने पर ठोंकी है। एनएच 24 के निर्माण में पॉल्यूशन कंट्रोल न करने पर एनएचएआई को यह जुर्माना देना होगा। शनिवार को मेरठ पहुंचे पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) नई दिल्ली के अध्यक्ष डॉ। भूरे लाल ने कलक्ट्रेट में आयोजित बैठक के दौरान विभिन्न विभागों के अधिकारियों के पेंच कसे।

ताकि स्मॉग फ्री रहे

सर्दी की दस्तक साथ ही दिल्ली-एनसीआर के आसमान में गत वर्षो से दमघोटू स्मॉग फैल जाता है। प्रदूषण नियंत्रण को लेकर लापरवाही बड़ी वजह है तो वहीं जिम्मेदार विभागों की लापरवाही भी चरम पर है। 'कोई भी विभाग अपनी अपनी जिम्मेदारी सही से नहीं निभा रहा है जिसके चलते करोड़ों की आबादी को जान का जोखिम उठाना पड़ता है.' शनिवार को मेरठ पहुंचे ईपीएसए के अध्यक्ष ने समीक्षा बैठक के दौरान विभिन्न विभागों के अधिकारियों के पेंच कसे।

कराएं नाइट पेट्रोलिंग

ईपीएसए के अध्यक्ष ने कहा कि पुलिस, प्रशासनिक और प्रदूषण नियंत्रण विभाग के अधिकारियों की टीम बनाकर नाइट पेट्रोलिंग कराई जाए, जिससे कूड़ा और ईधन न जलने पाए। चीनी मिलों की चिमनियों पर वैट स्क्रबर लगाने के निर्देश उन्होंने दिए।

अपराध है कूड़े का जलना

अध्यक्ष ने कहा कि प्लास्टिक, रबड़ व गार्बेज जलाने से जो धुआं उत्पन्न होता है उससे अनेकों बीमारियां होती हैं। यह कारसोजेनिक होता है, जिससे प्रभावित होने से कैंसर का खतरा भी बना रहता है।

यह है मेरठ के लिए नासूर

एनएच-235 (लोहियानगर) पर डम्पिंग यार्ड

औद्योगिक क्षेत्र मोहकमपुर पर पडे़ कूड़े का निस्तारण न होना

परतापुर बाईपास के समीप नेशनल हाईवे पर एसबीआई बैंक के समीप उद्योगों द्वारा प्रदूषण करना, आदि।

प्रदूषण का पता बताएं, ईनाम पाएं

बैठक में उन्होंने कहा कि जो उद्योग मानकों का अनुपालन नहीं कर रहे हैं। प्रदूषण कर रहे उनकी जानकारी देने पर संबंधित को 11 हजार रुपए का ईनाम दिया जाएगा। और उसकी पहचान भी गुप्त रखी जाएगी।

मेरठ में 3 यूनिट

डीएम अनिल ढींगरा ने बताया कि 14 अक्टूबर को सीएम योगी आदित्यनाथ यूपी के विभिन्न जनपदों में स्थापित कंटीयूनियस एंबीऐन्ट एयर क्वालिटी मॉनीटरिंग सिस्टम (सीएएक्यूएमएस) का शुभारंभ लखनऊ से करेंगे, जिससे वायु के प्रदूषण की जांच आसानी से हो सकेगी। मेरठ में 3 सीएएक्यूएमएस यूनिट स्थापित करायी गयी है। जिसमें से 1 राधा गोविंद मण्डप में, 1 आईएमटी में और 1 क्षेत्रीय अधिकारी, यूपीपीसीबी कार्यालय में लगायी गयी है। बैठक में डीएम हापुड अदिति सिंह, सीडीओ मेरठ ईशा दूहन, एडीएम प्रशासन रामचंद्र, नगर आयुक्त अरविंद चौरसिया, यूपीपीसीबी के क्षेत्रीय अधिकारी आरके त्यागी समेत उद्यमी मौजूद थे।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner