PATNA

: मेहंदीगंज थाना क्षेत्र के राजेंद्र मेहता पथ स्थित इलेक्ट्रॉनिक्स सामान के गोदाम में रविवार की रात घुसे हथियारबंद लुटेरों ने सुरक्षा गार्ड व वाहन चालक को बंधक बना शटर काट लगभग पचास लाख की टीवी लूटकर ले गए. टीवी की यह खेप धनतेरस पर बेचने के लिए मंगाई गयी थी. कंपनी के वितरक की सूचना पर पहुंची मेहंदीगंज पुलिस ने तहकीकात के बाद मामला दर्ज किया. पूरे मामले की जांच सहायक पुलिस अधीक्षक मनीष कुमार कर रहे हैं. घटना सीसीटीवी में कैद है. सीसीटीवी कैमरों की रिकाíडंग के आधार पर लुटेरों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है. बताया जाता है कि चालक का लूटा गया मोबाइल गोपालगंज जिला के डुमरिया में फेंका गया है.

सैमसंग कंपनी के अधिकृत विक्रेता राजेश कुमार सिंह ने सोमवार को बताया कि क्विक सॉल्यूशन के नाम से राजेंद्र मेहता पथ में टीवी का गोदाम सह कार्यालय है. रविवार की रात लगभग 11:30 बजे पिकअप वैन का चालक सुकेश कुमार गोदाम में पहुंचा. उसी समय पीछे से आए चार युवकों ने आकर गार्ड को बोले कि हम सामने गोदाम में काम करते हैं. हमें पानी पिला दीजिए. गोदाम के अंदर आते ही चारों युवकों ने गार्ड पर पिस्तौल तान दिया. गार्ड ने मोबाइल निकाल फोन करना चाहा तो लुटेरों ने मोबाइल छीनकर बाहर फेंक दिया. चालक के सामने आते ही उसका भी मोबाइल छीन लिया. इसके बाद लुटेरों ने गार्ड व चालक के मुंह में कपड़ा ठूंस सिर पर पिस्तौल के बट से वार कर घायल कर दिया. दोनों बेहोश हो जमीन पर गिर गए. लुटेरों ने दोनों का हाथ-पैर बांध दिया.

लुटेरों ने शटर काट गोदाम में खड़ी कंपनी के पिकअप संख्या-बीआर-01जीएच-1398 पर लगभग 200 से 250 पीस एलईडी टीवी, पैंतीस हजार रुपये व चांदी के सिक्के ले गए. गोदाम मालिक के अनुसार चोरी गए सामानों की कीमत लगभग पचास लाख है. वितरक के अनुसार धनतेरस व दीवाली के मौके पर टीवी बिकने आई थी. गोदाम मालिक के अनुसार रात 2:40 बजे बंधक से छूटने के बाद गार्ड व चालक ने घटना की सूचना दी. लुटेरों ने गोदाम में लगे सीसीटीवी कैमरों के डिजिटल विडियो रिकार्डर यानी डीवीआर को नोचने का प्रयास किया था. लुटेरों की कार्रवाई सीसीटीवी में कैद है. थानाध्यक्ष लालमुनि चौबे ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज से लुटेरों की पहचान कर छापेमारी की जा रही है.

Posted By: Inextlive