- कौशल विकास योजना में चयनित युवाओं को मुख्यमंत्री ने दिया नियुक्ति पत्र

GORAKHPUR: सोमवार का दिन हजारों युवाओं के लिए यादगार रहा. गोरखपुर यूनिवर्सिटी में रीजनल इंप्लॉइमेंट ऑफिस, कौशल विकास योजना व आईटीआई की ओर से आयोजित रोजगार मेले में 5484 अभ्यर्थियों का 50 से अधिक कंपनियों ने प्राथमिक चयन किया. दीक्षाभवन के सभागार में सीएम योगी आदित्यनाथ ने 25 अभ्यर्थियों को प्राथमिक चयनित प्रमाण पत्र दिया. मेले में गोरखपुर व बस्ती मंडल के 9800 अभ्यर्थियों ने प्रतिभाग किया था. 63 कंपनियों के अधिकारियों ने सेवायोजन कार्यालय के माध्यम से आए अभ्यर्थियों का दीक्षा भवन के 32 कमरों व कौशल विकास योजना व आईटीआई के अभ्यर्थियों का कन्वेंशन हॉल में इंटरव्यू लिया.

आयोजित हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम

मेले में पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री चेतन चौहान, मेयर सीताराम जायसवाल ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया. इससे पहले आर्य कन्या व एडी इंटर कालेज की छात्राओं ने शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए. पंजाबी, राजस्थानी लोकगीत पर ग्रुप डांस के बाद सोलो डांस में शानदार प्रस्तुती दी. विशाखा के वंदे मारतम व सुप्रिया के घूमर-घूमर डांस ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया. सीएम के आगमन के बाद एडी इंटर कालेज की छात्राओं ने सरस्वती वंदना की प्रस्तुती दी. इस अवसर पर कौशल विकास मंत्री चेतन चौहान, मेयर सीताराम जायसवाल, शीतल पांडेय, प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशक प्रांजल यादव, कमिश्नर अमित गुप्ता, डीएम के विजयेंद्र पांडियन, पीके मल्ल, पीके पुंडीर, सहायक निदेशक सेवायोजन अखंड प्रताप सिंह, सुनील श्रीवास्तव सहित बड़ी संख्या में अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे.

कोट्स

कौशल विकास योजना के तहत दो महीने का प्रशिक्षण हासिल करने के बाद मेरा सलेक्शन हो गया है. जौनपुर में ट्रेनिंग हासिल की थी और अब मुंबई में 16000 मंथली की जॉब कर रहा हूं.

- सिद्धार्थ शाक्य

यूनिवर्सिटी से ही ग्रेजुएट हूं. छह महीने की ट्रेनिंग के लिए सेलेक्शन हुआ था. वर्तमान में पेटीएम में 14,000 की सैलरी पर जॉब कर रहा हूं.

- सूरज सिंह

पढ़ाई में टीचर्स ने काफी सहयोग किया था. अभी ग्रेजुएशन फाइनल इयर में हूं. शिमला आईआईआरडी में 9 हजार मंथली की जॉब कर रही हूं. इतनी जल्दी जॉब मिल जाएगी उम्मीद नहीं थी.

सुष्मिता साहनी

ग्रेजुएशन पूरा होते ही मुझे जॉब मिल गया है. जल्द ही ज्वॉइनिंग हो जाएगी. अब मैं आर्थिक रूप से आत्म निर्भर हो चुकी हूं.

- रीतू सिंह