एफडी:

बैंकों में हमेशा से ही फिक्स्ड डिपॉजिट के प्रति लोगों का रूझान अधिक देखने को मिला है. ऐसे में यह फिक्स्ड डिपॉजिट फंडा वर्तमान में भी काफी कारगर साबित हो रहा है. इसमें पैसा निवेश करते समय यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप उसे कितने साल के लिए फिक्स कर रहे हैं. जिससे पैसा जमा होने के बाद कंपनी की तरफ से आपको ब्याज मिलता है. इसके साथ अगर आप निश्िचत अविध से पहले पैसा निकालते हैं तो बैंक आपका जुर्माना काटकर आपका पैसा वापस कर देगी.

पीपीएफ:

निवेश के मामले में PPF मतलब (Public Provident Fund) सबसे ज्यादा भरोसेमंद ओर सुरक्षित माना जाता है. इसमें हर कोई आसानी से निवेश कर सकता है. इसके निवेश की सबसे खास बात यह है कि इसमें सार्वजनिक और निजी बैंकों से लेकर पोस्टाफिस तक कहीं भी निवेश किया जा सकता है. पैसा निवेश करने के बाद आपको इसमें सिर्फ ब्याज का लाभ मिलेगा लेकिन आपका पैसा यहां बिल्कुल सेफ रहता है. इसमें एक बार में 15 साल तक का इन्वेस्टमेंट किया जा सकता है.

गोल्ड निवेश:

गोल्ड यानि की सोने में निवेश हमेशा से फायदेमंद रहा है. पुराने जमाने में भी लोग सोने को खरीदने की कोशिश करते रहें क्योंकि गोल्ड में भी काफी अच्छा रिटर्न मिलता है. वर्तमान दौर को देखते हुए आगे भी यही उम्मीद है कि सोने के घटने की बजाय भाव बढ़ेंगे. ऐसे में गोल्ड निवेश अपनाकर आप एक अच्छा रिटर्न पा सकते हैं, क्योंकि वर्तमान में सोने के भाव काफी ऊंचाई पर है.

म्युचुअल फंड:

म्यूचअल फंड में रिटर्न अच्छा होने के साथ इसमें जोखिम भी होता है, लेकिन हां अगर आप श्ोयर बाजार पर अच्छी पकड़ रखते हैं तो आप इसमें बेहतर निवेश कर सकते हैं. इसमें शेयर के बेचने या खरीदने का फंडा होता है. जिसमें आपको पैसा निवेश करने की कोई लिमिट नहीं होती है. आप अपनी सुविधा और बजट के हिसाब से कम से कम पैसे का भी निवेश कर सकते हैं. इसमें आप अपना पैसा कभी भी निकाल सकते हैं.

रियल स्टेट:

पैसे निवेश के मामले में वर्तमान हालात को देखते हुए रियल स्टेट भी काफी बेहतर ऑप्शन है. यहां पर भी पैसा निवेश करने में एक अच्छा रिटर्न मिलता है. आज लोग इसकी ओर काफी तेजी से बढ रहे हैं. अगर आप कही भी कोई भूमि संपत्ित खरीद रहे हैं तो यह आपको भविष्य में आपकी खरीद में लगाए गए पैसों से अधिक का मुनाफा देगी.

स्टॉक मार्केट:

स्टॉक मार्केट  निवेश मतलब की शेयर मार्केट में पैसा लगाना. यहां पर निवेश का फंडा भी अपनाया जा सकता है. हालांकि बेहतर रिटर्न के साथ यहां भी रिस्क है, लेकिन आज लोग इसकी ओर बढ़ रहे हैं. यहां पर शेयरों की खरीद फरोख्त तथा बिक्री की जाती है. इसमें शेयरों के आधार पर प्रॉफिट होता है और आपके निवेश की वापसी होती है. इसके साथ ही शेयर होल्डर्स को निवेश के समय तय की गई निर्धारित राशि मिलती रहती है. इसमें होल्डर्स पर कंपनी के लॉस या प्राफिट का असर नही होता है.

एनएससी:

सुरक्षित निवेश, ठीक-ठाक रिटर्न और टैक्स बचत तीनों चीजों का ध्यान रखते हुए नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एनएससी) काफी उपयुक्त है.आजकल इसकी ओर लोगों का रूझान काफी तेजी से बढ़ रहा है. इसमें सबसे खास बात यह है कि अगर आपके पास पैसा लिमिटेड है और आप उसे थोड़ समय के लिए ही निवेश करना चाहते हैं तो यह नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट बेहतर है. इसमें आपको ८ प्रतिशत की दर से हर छ माह पर ब्याज का लाभ मिलता है.

Hindi News from Business News Desk   

Posted By: Shweta Mishra

Business News inextlive from Business News Desk