- 16 घंटे तक चले रेस्क्यू में पांच और शव बरामद, दो लोगों के लापता होने की आशंका, एसडीआरएफ खोजबीन में जुटी

- स्लाइडिंग जोन में पुलिस और एसडीआरएफ की निगरानी में कराई जा रही वाहनों की आवाजाही

RUDRAPRAYAG: केदारनाथ हाईवे पर चंडीकाधार के पास स्लाइडिंग जोन में शनिवार रात हुए हादसे में मरने वालों की संख्या आठ पहुंच गई है. इन सभी के शव बरामद कर लिए गए हैं. दो लोगों के अभी लापता होने की आशंका जताई जा रही है. एसडीआरएफ, आपदा प्रबंधन और पुलिस की टीमें खोजबीन में जुटी हुई हैं.

रात में ही बरामद कर लिए गए थे 3 शव

गौरीकुंड मार्ग पर फाटा से चार किलोमीटर दूर चंडीकाधार के पास स्लाइडिंग जोन में एक कार और दो बाइक सवार यात्री शनिवार रात पहाड़ी से गिरे भारी-भरकम बोल्डर और मलबे की चपेट में आ गए थे. बाइकों पर पांच यात्री सवार थे, जबकि कार में चार से पांच लोगों के सवार होने का अनुमान है. सही संख्या का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है. हादसे में मारे गए बाइक सवार यात्रियों में से तीन के शव रात को ही बरामद कर लिए गए थे, जबकि छह से सात लोग लापता बताए जा रहे थे.

400 मीटर गहरी खाई में समाई कार

एसडीआरएफ और पुलिस की टीमें रात से ही रेस्क्यू में जुटी थीं. दुर्घटनाग्रस्त कार करीब चार सौ मीटर गहरी खाई में समा गई थी. मोबाइल कनेक्टविटी न होने और अंधेरे की वजह गहरी खाई में रेस्क्यू में दिक्कतें पेश आई. अल सुबह तक चली खोजबीन में पांच और शव बरामद हुए, इन सभी को रविवार दोपहर एक बजे के करीब खाई से निकालकर सड़क तक पहुंचाया जा सका. बाइक सवार यात्री ऋषिकेश के बताए जा रहे हैं. जबकि कार सवार यात्री दिल्ली के हैं. कार भी दिल्ली नंबर की है. गुप्तकाशी के थानेदार होशियार सिंह पंखुड़ी और जिला आपदा प्रबंधक अधिकारी हरीश चंद्र ने बताया कि कार सवार लोगों की सही संख्या का कुछ पता नहीं चला है, लेकिन खाई में अब कोई शव या घायल नहीं दिख रहा है. फिर भी, एसडीआरएफ की टीम खोजबीन में जुटी हुई है. अगर कार में पांच लोग सवार होंगे तो दो और लोगों के लापता होने की आशंका है. स्लाइडिंग जोन के आसपास पुलिस और एसडीआरएफ के जवानों की निगरानी में वाहनों की आवाजाही कराई जा रही है.

Posted By: Inextlive