- दून-ऋषिकेश हाईवे पर सात मोड़ के पास हुआ हादसा

- दो कार भिड़ीं, एक विक्रम भी टकराकर पलटा

देहरादून,

ऋषिकेश-देहरादून मार्ग पर सात मोड़ के पास 2 वाहनों की भिड़ंत के बाद पीछे से आ रहा विक्रम भी टकराकर पलट गया. दुर्घटना में विक्रम सवार एक किशोरी मौत हो गई. जबकि ऋषिकेश के एसडीएम व नाजिर सहित 9 लोग घायल हो गए. घायलों का राजकीय अस्पताल व एम्स में उपचार चल रहा है. एम्स निदेशक प्रो. रविकात, बार एसोसिएशन ऋषिकेश व एमएनए चतर सिंह चौहान के पदाधिकारियों ने हाल जाना.

एसडीएम सहित घायलों को पहुंचाया हॉस्पिटल

सरकारी वाहन खराब होने के कारण बुधवार की सुबह एसडीएम ऋषिकेश प्रेम लाल (40) नाजिर के पद पर तैनात सुनील भट्ट (31) के साथ निजी कार से ऋषिकेश आ रहे थे. उनकी कार की ऋषिकेश-देहरादून मार्ग पर सात मोड़ के समीप विपरीत दिशा से आ रही कार से भिडं़त हो गई. इसी बीच पीछे से आ रहा एक विक्रम भी दोनों वाहनों से टकराने के बाद सड़क किनारे बने पैराफिट के ऊपर चढ़ गया. इससे विक्रम में सवार 8 लोग घायल हो गए. दुर्घटना के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई. सूचना पर पहुंची पुलिस ने एसडीएम प्रेमलाल को अपने वाहन से एम्स पहुंचाया. दुर्घटना में घायल नाजिर सुनील भट्ट (31) सहित विक्रम सवार अमीषा (16 वर्ष) व तन्नु (17 वर्ष) दोनों पुत्री दिनेश, शोभा (40 वर्ष) पत्नी दिनेश सभी निवासी रानी पोखरी, देहरादून, वर्षा (19 वर्ष) पुत्री शत्रुघ्न निवासी रायवाला, रिचा (21 वर्ष) पुत्री एमआर कोठियाल निवासी फलसुवा बड़कोट डांडी, रश्मि (30 वर्ष) पुत्री अशोक कुमार निवासी भोगपुर, पुष्पा देवी (57 वर्ष) पत्नी धीरेंद्र निवासी भोगपुर, श्याम सिंह (32 वर्ष) पुत्र मुखराम निवासी ढूंगी धार नई टिहरी, टिहरी गढ़वाल को हॉस्पिटल पहुंचाया. जहां से तन्नु व पुष्पा की हालत को गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने हायर सेंटर एम्स के लिए रेफर कर दिया. दोपहर में एम्स में उपचार के दौरान तन्नु ने दम तोड़ दिया. ऋषिकेश थाना प्रभारी निरीक्षक रितेश साह ने बताया कि एसडीएम की हालत ठीक है. नाजिर सुनील भट्ट व पुष्पा का एम्स में उपचार चल रहा है. जबकि राजकीय चिकित्सालय में भर्ती घायलों की स्थिति खतरे से बाहर है.