काटा गया वाटर कनेक्शन, दी गई चेतावनी, अन्य के खिलाफ भी जल्द होगी कार्रवाई

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: पब्लिक के हिस्से का पानी खींच कर ब्लैक मार्केटिंग करने वाले अवैध आरओ प्लांट संचालकों के खिलाफ नगर निगम के जलकल विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है. बुधवार को शिवकुटी एरिया में संचालित तीन आरओ प्लांट को बंद कराते हुए उनका वाटर कनेक्शन काटा गया.

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने की पहल

14 जुलाई को नगर निगम सदन में आरओ प्लांट से पानी की बर्बादी के साथ कालाबाजारी का मुद्दा उठा. सदन में आरओ प्लांट तत्काल बंद कराने का प्रस्ताव पास हुआ. लेकिन जलकल विभाग भूल गया. तब दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने 20 फरवरी के एडिशन में 'टूट रहा संकल्प' शीर्षक से खबर प्रकाशित की.

काटा गया कनेक्शन

बुधवार को जलकल विभाग जोन-3 के अधिशासी अभियंता शिवकुटी एरिया पहुंचे. उन्होंने मेला रोड पर राजेंद्रपुरी द्वारा संचालित विद्यार्थी आरओ प्लांट, शारदा प्रसाद आरओ प्लांट और विजय कुमार आरओ प्लांट को बंद कराते हुए वाटर कनेक्शन काट दिया. यहां जलकल विभाग के मेन पाइप लाइन से दो हार्स पॉवर मशीन से पानी खींच कर आरओ प्लांट संचालित किया जा रहा था.

21

प्लांट संचालकों को शिवकुटी एरिया में भेजा गया था नोटिस

14

जुलाई को नगर निगम सदन में पानी की बर्बादी पर पार्षदों ने उठाया था मुद्दा

30

रुपये वसूलते हैं 20 लीटर के आरओ केन का

750

केन औसत सप्लाई है प्रत्येक आरओ प्लांट की

22000

रुपये पर डे का बिजनेस है अवैध आरओ प्लांट का

05

रुपये प्रति केन मिलता है सप्लाई पहुंचाने वाले वेंडर्स को

पानी की बर्बादी के साथ ही कालाबाजारी रोकना नगर निगम व जलकल विभाग की जिम्मेदारी है. इसे लेकर कार्रवाई की जा रही है. अवैध आरओ प्लांट संचालक कॉमर्शियल वाटर कनेक्शन लेकर बिजनेस करना शुरू कर दें, नहीं तो किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा.

अभिलाषा गुप्ता

मेयर, नगर निगम इलाहाबाद