कुंभ के लिए एक्टिव किया गया हेल्प लाइन नम्बर, 20 स्टाफ की टीम रहेगी तैनात

मेला क्षेत्र में किसी भी तरह की कंप्लेन होगी दर्ज, संबंधित विभाग तक पहुंचाई जाएगी

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: कुंभ मेला के दौरान इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर पूरे क्षेत्र पर न सिर्फ नजर रखेगा, बल्कि लोगों की समस्या का समाधान भी कराएगा. इसके लिए कमांड सेंटर में ही कॉल सेंटर की स्थापना करते हुए हेल्पलाइन नंबर '1920' जारी किया गया है. ये एक जनवरी से काम करना शुरू कर देगा.

ताकि न होना पड़े परेशान

इस बार 3200 हेक्टेयर एरिया में कुंभ मेला क्षेत्र बसाया जा रहा है. एक कोने से लेकर दूसरे कोने तक तंबुओ की नगरी बसाने की तैयारी शुरू हो गई है. कुछ दिनों बाद ही पूरा मेला क्षेत्र तैयार हो जाएगा. तीर्थ यात्रियों का आना शुरू हो जाएगा और पंद्रह जनवरी को पहला स्नान पर्व होने पर लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ संगम नगरी प्रयागराज पहुंचेगी. मेला प्राधिकरण के साथ ही शासन स्तर पर पूरी तैयारी की गई है ताकि श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत न हो. इसके बाद भी अगर किसी यात्री को कोई समस्या होती है तो उसे अपनी बात संबंधित अधिकारी तक पहुंचाने व शिकायत करने के लिए परेशान न होना पड़े, इसके लिए हेल्प लाइन नंबर 1920 जारी किया गया है. ये मेला के दौरान 24 ऑवर वर्क करेगा.

नीचे कमांड, ऊपर कॉल सेंटर

कमांड सेंटर के ही सेकेंड फ्लोर पर कॉल सेंटर बनाया गया है. वहां 20 लोगों की टीम तैनात की जा रही है. ये 24 घंटे शिफ्टवाइज ड्यूटी करेंगे. मेला क्षेत्र के किसी भी एरिया से कोई शिकायत आने पर संबंधित अधिकारी व कर्मचारी तक समस्या पहुंचाने के साथ ही शिकायत का निस्तारण कराया जाएगा. इसकी मॉनिटरिंग भी होगी. ताकि कोई शिकायत पेंडिंग न रहे. कॉल सेंटर जोन व सेक्टर अधिकारियों की निगरानी में रहेगा. शिकायतों की जानकारी संबंधित सेक्टर के अधिकारी को दी जाएगी.

खंभा नंबर से मौके पर पहुंचेंगे

काफी विशाल एरिया में बस रहे मेला क्षेत्र में पहुंचने के लिए पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों कर्मचारियों को परेशान न होना पड़े, इसके लिए मेला क्षेत्र में लगे हर खंभे की नंबरिंग की गई है. कम्प्लेन करने वाले को बस केवल खंभा नंबर बताना होगा. इसके बाद संबंधित एरिया की टीम कुछ ही देर में मौके पर पहुंच जाएगी. खंभा नंबर के हिसाब से चार्ट और रूट बनाया गया है.