कानपुर। भारत में अफगानिस्तान बनाम आयरलैंड के बीच खेली जा रही पांच मैचों की वनडे सीरीज का चौथा मैच कर्इ मायनों में अलग रहा। वैसे तो इस मैच में जीत अफगान टीम को मिली मगर सबसे ज्यादा चर्चा उन दो अफगानी खिलाड़ियों की रही जो रिश्ते में लगते हैं चाचा-भतीजा। आपको यह सुनकर थोड़ी हैरानी जरूर होगी मगर ये सच है। शुक्रवार को देहरादून में अफगान टीम का सामना जब आयरलैंड से हुआ तो अफगानी टीम की तरफ से चाचा-भतीजा मैदान में उतरे। इनमें एक मुजीब उर रहमान हैं तो दूसरे नूर अली जारदान। जारदान अफगान टीम के युवा गेंदबाज रहमान के चाचा हैं।

मैदान में एक साथ उतरे चाचा-भतीजा

चाचा-भतीजे की जोड़ी जब एक साथ मैदान में उतरी तो सब देखते रह गए। हालांकि बैटिंग में दोनों को साथ नहीं देखा गया क्योंकि जारदान जहां आेपनर बल्लेबाज हैं वहीं रहमान गेंदबाज हैं। हालांकि फील्डिंग के वक्त इन दोनों को विकेट का जश्न मनाते साथ देखा गया। बता दें मुजीब उर रहमान ने मैच में दो विकेट लिए थे जिसके चलते अफगानिस्तान ने आयरलैंड को 109 रन से हरा दिया। इसी के साथ अफगान टीम पांच मैचों की इस सीरीज में 2-1 से आगे है।

भतीजा खेलता है आर्इपीएल में
31 साल के चाचा नूर अली जारदान भले ही अफगानिस्तान क्रिकेट टीम तक सीमित हैं मगर भतीजे मुजीब ने आर्इपीएल में इंट्री मार ली है। मुजीब ने पिछले साल आर्इपीएल में खूब सुर्खियां बटोरी थीं। वो इस नीलामी में बिकने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने थे तब इस खिलाड़ी की उम्र 17 साल थी। किंग्स इलेवन पंजाब ने मुजीब को 4 करोड़ रुपये में खरीद लिया था। इस बार आईपीएल 2019 के लिए पंजाब ने उन्हें अपनी टीम में बरकरार रखा है। पिछली बार आईपीएल में मुजीब ने 11 मैच खेलते हुए कुल 14 विकेट झटके थे।

Ind vs Aus : आर्मी वाली टोपी पहनकर मैदान में क्यों उतरे भारतीय क्रिकेटर, जानें आैर कितने मैच खेलेंगे एेसे ही

धोनी के चलते 8 साल तक टीम से बाहर रहा था ये खिलाड़ी

Cricket News inextlive from Cricket News Desk