जोशी ने दिया सबसे पहले इस्तीफा

टयूजडे का दिन मानो देश के अलग-अलग राज्यों के राज्यपालों के इस्तीफा का दिन बन गया है. इस्तीफा देने के इस प्रोसेस में सबसे आगे उत्तर प्रदेश के राज्यपाल बीएल जोशी रहे और उनके कुछ समय बाद कर्नाटक के राज्यपाल हंसराज भारद्वाज और असम के राज्यपाल जेबी पटनायक ने भी अपना इस्तीफा राष्ट्रपति को भेज दिया. इस तरह उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और असम के राज्यपालों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

हटाए जाने से पहले इस्तीफा

राज्यपाल बीएल जोशी ने मंगलवार को राष्ट्रपति को अपना इस्तीफा भेज दिया. उन्होंने 28 जुलाई, 2009 को उत्तर प्रदेश के राज्यपाल का पद संभाला था. वह 2004 में दिल्ली के उप राज्यपाल रहने के अलावा मेघालय और उत्तराखंड के भी राज्यपाल रह चुके हैं. उन्होंने अपना इस्तीफा ऐसे समय दिया है जब यह कहा जा रहा था कि एनडीए गवर्नमेंट कुछ राज्यपालों को हटाने पर विचार कर रही है. इनमें बीएल जोशी का नाम भी होने की बात कही जा रही थी. 

मोदी सरकार ने मांगा इस्तीफा

इसके पहले आ रही खबरों में कहा गया था कि मोदी सरकार ने यूपीए द्वारा नियुक्त करीब कुछ राज्यपालों को हटाने के बारे में विचार कर रही है. यह भी कहा जा रहा है कि केंद्रीय गृह सचिव अनिल गोस्वामी ने इन राज्यपालों को फोन कर सरकार की मंशा से अवगत भी करा दिया है. जिन राज्यपालों से पद छोड़ने के लिए कहा गया है, उनमें- वेस्ट बंगाल के राज्यपाल एमके नारायणन, केरल की राज्यपाल शीला दीक्षित, राजस्थान की राज्यपाल मार्गेट अल्वा, गुजरात की राज्यपाल कमला बेनिवाल, महाराष्ट्र के राज्यपाल के. शंकरनारायणनन और त्रिपुरा के राज्यपाल देवेंद्र कोंवर का नाम लिया जा रहा है.

Posted By: Subhesh Sharma

National News inextlive from India News Desk