पटना (ब्यूरो)। हैदराबाद वाली घटना की तर्ज पर ही यहां भी युवती के साथ दुष्कर्म कर उसे जला दिया गया। युवती को जलाने से पहले युवती के सिर में गोली भी मारने की बात सामने आई है। घटनास्थल के पास से पुलिस ने 8 एमएम का एक खोखा बरामद किया है।

जांच के लिए भेजा सैंडिल

बताया जा रहा है कि, पुलिस ने युवती के पैर में पड़ी सैंडल अपने कब्जे में ले ली है तथा उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जा रहा है। एसपी स्वयं घटनास्थल पर पहुंचे थे तथा उन्होंने घटनास्थल का सूक्ष्म निरीक्षण करते हुए ऐसे साक्ष्य प्राप्त करने की कोशिश की है जो मृतका की पहचान बता सके। जिलाधिकारी राघवेन्द्र सिंह ने भी घटनास्थल का जायजा लिया। डीएम ने बताया कि यह घटना अमानवीय कृत्य है। युवती को गोली मारी गई है और उसे जलाया गया है इसकी पुष्टि हो चुकी है। हालांकि, इसमें अभी दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हो रही है। जिलाधिकारी ने इस मामले में लोगों से अपील की है कि वे शांति व्यवस्था बनाए रखें। युवती की जघन्य तरीके से हत्या का मामला सामने आने से राजनीतिक और सामाजिक संगठनों में ऊबाल आ गया।

20 वर्ष की थी युवती

शव का पोस्टमार्टम करने वाले चिकित्सक डॉ।बीएन चौबे के अनुसार युवती की उम्र 20 साल से कुछ कम है और या तो उसकी नई शादी हुई है या फिर दुष्कर्म हुआ है। पुलिस अधीक्षक उपेंद्रनाथ वर्मा ने बताया कि शव के पहचान की कोशिश की जा रही है। अपराधियों की पहचान के लिए फॉरेंसिक टीम के अलावा डॉग स्क्वायड टीम को भी बुलाया गया है। जिससे घटना को अंजाम देनेवालों को जल्द से जल्द सलाखों के पीछे पहुंचाने में मदद मिल सके।

झुलस चुका है शरीर का ऊपरी हिस्सा

ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामला सामने आने के बाद पुलिस के आला अधिकारी हरकत में आए और आरक्षी अधीक्षक उपेन्द्रनाथ वर्मा घटनास्थल पर जांच के लिए पहुंचे। युवती के शरीर के ऊपर का पूरा हिस्सा आग में झुलस चुका है, वह युवती हाथ में दस्ताने और पैर में मोजा एवं जूती पहने थी। इसी आधार पर पुलिस उसकी पहचान के लिए आसपास के जिला पुलिस से भी संपर्क कर रही है। अनुमान लगाया जा रहा है कि दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने के बाद युवती को पहले गोली मारी गई है। फिर पहचान छिपाने के लिए पेट्रोल छिड़क कर उसे जला दिया गया है।

भावुक हुए पोस्टमॉर्टम करने वाले डॉक्टर, बोले - मिले कठोर सजा

लाश का पोस्टमार्टम करने पुराना सदर अस्पताल स्थित पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉ बी एन चौबे भावुक और आपे से बाहर हो गए। इस घटना को हैदराबाद की घटना की पुनरावृत्ति करार दिया। कहा कि बेटी-बहनों से इस तरह की क्रूरता करने वालों को भी वैसी ही सजा देनी चाहिए। ताकि, दूसरे सबक ले सकें।

सुबह हुई जानकारी

बताया जाता है कि सुबह गेंहू पटवन करने के लिए खेतों की ओर किसान गए थे, तभी उनकी नजर बधार में पड़े युवती के अधजले शव पर पड़ी। शव को देखने से युवती किसी संपन्न परिवार की लग रही है। युवती का शव कोरानसराय-सरेंजा पथ से दो सौ मीटर की दूरी पर मिला है, यह मार्ग बक्सर-आरा तथा कोचस मार्ग से जुड़ता है।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने पुलिस महानिदेशक से की बात

घटना की जानकारी के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने राज्य के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय और जिले के आरक्षी अधीक्षक उपेन्द्रनाथ वर्मा से बात कर घटना की जानकारी ली। उन्होंने घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है और दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

PATNA@inext.co.in

Posted By: Inextlive