हरजेन्दर नगर चौराहे के पास बाइक सवार बदमाशों ने टक्कर मार दी. टक्कर इतनी तेज थी कि राजेन्द्र की गाड़ी डिसबैलेंस हो गई. राजेन्द्र ने विरोध किया तो बदमाशों ने रिवॅाल्वर तान दिया और वाइफ रश्मि की चेन खींच ली. सरेशाम 4.30 बजे चेन स्नेचिंग की वारदात को अंजाम देने के बाद लुटेरे रामादेवी की तरफ भाग निकले.

इसके बाद इन्ही बदमाशों ने साढ़े पांच बजे चकेरी के ब्यूटी पार्लर के पास दूसरी घटना को अंजाम दिया. दोनों ही जगह   सेम बाइक्स, नंबर यूपी 35 आर 1319, यूज की गई.


...और पुलिस करती रह गयी meeting
एक ओर पुलिस लाइन में क्राइम मीटिंग चल रही थी दूसरी ओर चकेरी में बाइकर्स एक ब्यूटी पार्लर में वारदात को अंजाम दे रहे थे. वहां लुटेरों ने एक मासूम को रिवाल्वर दिखाकर एक लडक़ी की चेन छीन ली. मौके पर मौजूद लोगों से लडक़ी ने मदद मांगी लेकिन कोई बचाने नहीं आया. उसने लुटेरों की गाड़ी का नंबर नोट कर पुलिस को थमा दिया.

मूलरूप से फर्रूखाबाद कायमगंज के रहने वाले एयरफोर्स कर्मी हरीप्रसाद यादव की बेटी सुप्रिया ने कैलाश नगर चकेरी में 16 नवंबर 2010 को डायनमिक ब्यूटी पार्लर जोन खोला था. सुप्रिया ने बताया कि पार्लर में छोटी सिस्टर प्रिया भी बैठती है. संडे शाम लगभग 5.30 बजे दोनों बहनें और बेटा शिवांग (3 साल) ब्यूटी पार्लर में बैठा था.

इस बीच बगैर नॉक किए दो लडक़े पार्लर में घुस आए. सुप्रिया ने लडक़ों से जैसे ही जेंट्स नॉट अलाउड कहा, उन्होंने रिवाल्वर निकाल लिया. सुप्रिया के शोर मचाते ही बदमाशों ने शिवांग की कनपटी पर रिवाल्वर लगा कर जान से मारने की धमकी दी. बदमाशों ने पहले सुप्रिया की चेन छीनी और फिर प्रिया से चेन और पेंडल मांगा.

उसने मना कर दिया. इस पर लुटेरों ने उसे लात-घूसों से पीटना शुरू कर दिया. शोर मचाने पर बदमाशों ने तमंचे की बट से भी कई वार किए .बदमाशों ने किसी धारधार चीज से उसके पेट में भी वार किया, जिससे वह पार्लर के गेट पर गिर पड़ी. बेखौफ बदमाश भाग गए.