- इस बार पांच हजार अंकों पर होगी स्टार रैकिंग

agra@inext.co.in
AGRA: स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 में स्वयं के मूल्याकंन में नगर निगम ने 1250 अंकों में से 1173 अंक प्राप्त करने का दावा किया है. अब स्वच्छता सर्वेक्षण की केन्द्रीय टीम नगर निगम के इन दावों की जांच करेगी. उसके बाद ही स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की रैकिंग निर्धारित की जाएगी. बता दें कि 14 जनवरी तक सभी शहरों को 1250 अंक पर स्वयं का मूल्याकंन अंक देने थे, जिसमें प्रदेश में गाजियाबाद 1188 अंक जबकि ताजनगरी ने 1173 अंकों का दावा किया है.

टीम के आने पर असमंजस की स्थिति बरकरार
इस बार स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 की केन्द्रीय टीम के आने पर असमंजस की स्थिति बरकरार बनी हुई है. नगर निगम के अफसरों की मानें तो इस बार सभी डॉक्यूमेंट ऑनलाइन भेजे गए हैं, जबकि पहले केन्द्रीय टीम नगर निगम से सभी डॉक्यूमेंट प्राप्त करती थी. इस बार सब कुछ ऑनलाइन हो रहा है. इसके चलते टीम के आने की स्थिति पर असमंजस की स्थिति बनी हुई है.

अब 21 जनवरी तक चलेगा स्वच्छता सर्वेक्षण 2019
स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 अब 21 जनवरी तक चलेगा. पहले ये 31 जनवरी तक चलना था. 21 जनवरी तक स्वच्छता सर्वेक्षण में अच्छा प्रदर्शन करने वाले शहरों को स्टार रैकिंग दी जाएगी. इस बार पूर्णाक 5000 अंकों का रखा गया है. उसी के आधार पर रैकिंग होगी. इसके बाद बजट जारी किया जाएगा.

किस शहर का कितने का दावा
स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 में स्वयं के मूल्याकंन में चार शहरों ने अपने आपको 1250 अंकों में से शत-प्रतिशत होने का दावा किया है. इसमें आगरा ने 1173, तो गाजियाबाद ने 1188, बरेली ने 1158, कानपुर ने 1108, इलाहाबाद ने 1070, लखनऊ ने 1058, वाराणसी ने 1041 तो मेरठ ने 1018 अंकों का दावा किया है. वहीं आगरा ने पूर्णाक पांच हजार में से शत-प्रतिशत अंक देने का दावा करते हुए स्वच्छता सर्वेक्षण की केन्द्रीय टीम को दस्तावेज भेजे हैं. अब केन्द्रीय टीम इनके दावों की जांच निर्धारित मानकों के अनुसार करेगी. इसमें ऑनलाइन डिजिटल सर्वे व स्टार रेटिंग के 12 मानकों पर आंकलन किया जाएगा. इसमें शहरों की नालियों की सफाई, जलस्रोतों की सफाई, प्लास्टिक कचरा प्रबंधन, निर्माण तोड़फोड़ के बाद कचरा निपटाने की स्थिति का आंकलन किया जाएगा. बता दें कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में शहर को देश में 102वां स्थान मिला था. गत वर्ष स्वच्छता सर्वेक्षण में शहर को प्रदेश में नौवां और देश में 263वां स्थान मिला था. पिछले दो वर्षो में नगर निगम ने अपनी स्थिति में काफी सुधार किया है.

स्वच्छता सर्वेक्षण से जुड़े कुछ तथ्य

वर्ष 2016 में देश के 75 शहरों में स्वच्छता सर्वेक्षण किया गया था. इसमें आगरा 45वें स्थान पर रहा था.

वर्ष 2017 में देश के 410 शहरों में स्वच्छता सर्वेक्षण में आगरा प्रदेश में नौ वें और देश में 263 वें स्थान पर रहा था.

वर्ष 2018 में देश के चार हजार शहरों में स्वच्छता सर्वेक्षण किया गया. आगरा देश में 102 वें स्थान पर और प्रदेश में पांचवे स्थान पर रहा था.