कोयम्बटूर (पीटीआई)। इन दिनों देश में कुछ लोग इंडियन एयरफोर्स द्वारा 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के शिविर पर किए हवाई हमले में मरने वालों की निश्चित संख्या पूछ रहे हैं। एेसे में आज इंडियन एयरफोर्स के एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के शिविर पर हमले के बाद अपनी पहली प्रतिक्रिया दी।

एयरफोर्स अपने टारगेट पर फोकस करती
एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने आज कोयम्बटूर में एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मरने वालों की संख्या टारगेट वाली जगह पर माैजूद लोगों पर निर्भर करती है। वहीं इंडियन एयरफोर्स मृतकों की संख्या की गिनती नहीं करती है। एयरफोर्स सिर्फ अपने टारगेट पर फोकस करती है कि उसका टारगेट हिट हुआ या नहीं। हमले में हुर्इ कैजुएलटी का फीगर सरकार देगी।  

पाक संग डाॅग फाइट में मिग 21 परफेक्ट
इसके साथ ही उन्होंने मिग 21 जेट के इस्तेमाल को लेकर कहा कि जब आप पर हमला होता है, तो हर विमान का इस्तेमाल किया जाता है। पाकिस्तान के साथ डाॅग फाइट में एयरक्राफ्ट मिग 21 एक परफेक्ट एडवांस वेपंस हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 27 फरवरी को पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया है।

अभिनंदन को अच्छा मेडिकल ट्रीटमेंट मिलेगा
हालांकि इसके साथ ही यह भी कहा कि वह इस पर कोर्इ पाॅलिटिकल कमेंट नहीं कर सकते है। उन्हें खुशी है कि उनका पायलट वापस आ गया है। अभिनंदन के दोबारा लड़ाकू विमान उड़ाने के सवाल पर एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने कहा कि यह अभिनंदन वर्धमान की मेडिकल फिटनेस रिपोर्ट पर निर्भर करता है। उन्हें बेहतर मेडिकल ट्रीटमेंट दिए जाएंगे।  
 
300 से अधिक आतंकी मारे जाने की खबरें आर्इ
बीते 14 फरवरी को पुलवामा टेरर अटैक के बाद 26 फरवरी को  इंडियन एयरफोर्स ने  सुबह करीब 3:30 बजे पाकिस्तान की सीमा में घुसकर वहां जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर 12 मिराज 2000 फाइटर विमानों हमला किया था। एयरफोर्स ने इस दाैरान करीब 1 हजार किलो बम गिराए थे। इस कार्रवार्इ से पाकिस्तान में 300 से अधिक आतंकी मारे जानें की खबरें आर्इं।

मूंछ हो तो अभिनंदन वर्धमान जैसी, 'अभिनंदन कट स्टाइल' महिलाआें को भी खूब भा रही

कैसे बनते हैं अभिनंदन वर्धमान जैसे फाइटर पायलट

National News inextlive from India News Desk