- रोनी सूरत और कड़े तेवर के साथ घर से निकलती दिखीं, फिर लौट आईं ससुराल

- रोनी सूरत वाली तस्वीर वायरल, तेवर से लगा कि ससुराल में अब सहज नहीं हैं

पटना (ब्यूरो) । लालू प्रसाद के परिवार में रुक-रुक कर जो तूफान आते रहता है वह और घनघोर हो गया है. बेटे-बहू में अलगाव का मामला आंगन, कोर्ट-कचहरी के दायरे से निकलकर अब सड़क पर भी दिखने लगा है. तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय शुक्रवार को अचानक अपने ससुराल से रोती-बिलखती बाहर निकलीं तो चर्चा सरेआम होने लगी. ऐश्वर्या की चाल, रोनी सूरत और तेवर से लगा कि राबड़ी देवी की 'सुलक्षणी बहू' अपने ससुराल में अब सहज नहीं हैं. शादी के बाद जब ऐश्वर्या अपने ससुराल आई थीं, तो रांची जेल में बंद लालू प्रसाद को मेडिकल आधार पर सशर्त जमानत मिल गई थी, जिसके बाद राबड़ी ने ऐश्वर्या को सुलक्षणी बहू बताया था. किंतु कुछ दिन बाद ही उल्टी गिनती शुरू हो गई.

पिता की गाड़ी में बैठ कर गईं मायके, कुछ देर बाद लौटीं
शुक्रवार की दोपहर करीब एक बजे ऐश्वर्या अपनी सास राबड़ी देवी के सरकारी आवास के मुख्य दरवाजे से रोती हुई बाहर निकलीं और सड़क पर सामने लगी अपने पिता की गाड़ी में तेजी से जाकर बैठ गई. ऐश्वर्या घर से अकेली निकली थी. गाड़ी में उनके पिता के ड्राइवर और सुरक्षा गार्ड थे. कहा जा रहा है कि कुछ देर के लिए वह अपने मायके गईं और फिर लौट आईं. किंतु ससुराल से ऐश्वर्या के बाहर निकलने के अंदाज का असर दूर और देर तक होता रहा.

गाड़ी नहीं आई अंदर, पैदल निकली ऐश्वर्या
लालू परिवार के किसी भी सदस्य के आने-जाने के क्रम में गाड़ी अंदर आवास परिसर तक जाती है. ऐश्वर्या के पास यह अधिकार नहीं है. उन्हें कहीं जाना होता है तो मुख्य दरवाजे के बाहर तक खुद जाना होता है और आने के दौरान भी गाड़ी बाहर छोड़कर अंदर तक पैदल चलकर आना होता है.

चुनाव के समय से ही बढ़ी तकरार
हालांकि यह पहला मौका नहीं है, जब वह राबड़ी देवी के आवास से बाहर निकली थीं. लालू परिवार से जुड़े सूत्र बताते हैं कि लोकसभा चुनाव के बाद से ही ऐश्वर्या का ससुराल में रहना मुश्किल हो गया है. शुरू में बेटे-बहू के झगड़े में तेजप्रताप को छोड़कर लालू का पूरा परिवार ऐश्वर्या के साथ खड़ा दिख रहा था, किंतु यह क्रम ज्यादा दिनों तक नहीं चल सका. चुनाव खत्म हो गया तो स्नेह पर भी विराम लग गया. ऐश्वर्या के मायके से जुड़े सूत्र बताते हैं कि मतदान के बाद से ही उत्पीड़न का दौर शुरू हो गया. खाने पर बंदिश और आने-जाने पर पहरा बिठा दिया गया. सूत्र तो यहां तक बताते हैं कि लालू परिवार का किचन ऐश्वर्या के लिए बंद है. खाने के लिए उन्हें या तो मायके से मदद लेनी पड़ती है या बाजार से मंगाना पड़ता है.

मिलते ही शुरू हो गई थी बिछुड़ने की पटकथा
तेजप्रताप और ऐश्वर्या की शादी के महज कुछ दिन बाद से ही दोनों के रिश्ते असहज हो गए थे. पिछले साल 12 मई को हुई थी शादी, जो महीने भर भी ठीक से नहीं चली. एक नवंबर को तलाक मांग लिया. ऐश्वर्या और अपने ससुराल वालों पर कई गंभीर आरोप भी लगाए. तेजप्रताप ने तभी से राबड़ी देवी के सरकारी आवास में आना-जाना छोड़ दिया है. उन्होंने अपने लिए राजधानी में एक अलग सरकारी आवास आवंटित करा लिया है. शादी के बाद से ऐश्वर्या अपने ससुराल में ही रह रही है. पति के तलाक मांगने के बावजूद उन्होंने घर नही छोड़ा.

धूमधाम से हुई थी दोनों की शादी :
लालू और चंद्रिका राय के परिवार ने बड़ी हसरत और धूमधाम से तेजप्रताप के साथ ऐश्वर्या की सगाई और शादी की थी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ देश भर की कई नामी-गिरामी हस्तियों ने शादी में शिरकत की थी. सोशल मीडिया पर ऐश्वर्या के साथ तेजप्रताप की तस्वीरें बताती हैं कि कुछ दिनों तक दोनों के संबंध भी अच्छे चल रहे थे. साइकिल पर दोनों के घूमते हुए तस्वीर वायरल भी हुई थी. किंतु एक बार संबंधों में खटास आया तो परिवार का मनुहार भी काम नहीं आया. तेजप्रताप तलाक के लिए अड़ गए और किसी के समझाने से भी नहीं माने. कहा जाता है कि दिल्ली विश्वविद्यालय से पढ़ी ऐश्वर्या को यह शादी पसंद नहीं थी. किंतु दोनों परिवारों के दबाव में उसने आखिरी वक्त में सहमति दी थी.
patna@inext.co.in