नई दिल्ली, (एएनआई)। All women short film 'Devi' first look out, देवी' के मेकर्स ने थर्सडे को इस ऑल वुमन शॉर्ट फिल्म का पहला लुक जारी किया। फिल्म में काजोल, श्रुति हसन, नेहा धूपिया, नीना कुलकर्णी, मुक्ता बर्वे, संध्या महात्रे, रमा जोशी, शिवानी रघुवंशी, और यशस्विनी दयामा ने इंपोर्टेंट रोल प्ले किए हैं। काजोल ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी में इस लुक को शेयर भी किया है।

नौ औरतों के दर्द की सांझी कहानी है देवी फर्स्ट लुक आया सामने

औरतों से जुड़ी समस्याओं को समझना जरूरी

फिल्म तानाजी में लंबे समय के बाद वापसी करके अपनी एक्टिंग के झंडे गाड़ रही काजोल ने अपने इस लेटेस्ट प्रोजेक्ट पर बात करते हुए, कहा, कि, वे अपनी पहली शॉर्ट फिल्म के लिए 'देवी' से बेहतर सब्जेक्य सलेक्ट नहीं कर सकती थीं। यह एक इमोशनल फिल्म है, जिसे दुनिया के साथ शेयर करने की जरूरत है, खासकर आज के दौर में। फिल्म में वह जिस किरदार को निभा रही हैं, उसके बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा कि उनका करेक्टर ज्योति कई मायनों में उनसे अलग है, लेकिन इसके बावजूद काफी कुछ ऐसा जो अनजाने में ही वो शेयर करते हैं। आज के समय में जब जेंडर बायसनेस, एब्यूज और वॉयलेंस के बारे में खुल कर बात की जा रही है, तब 'देवी' जैसी फिल्में और भी रेलिवेंट हो गई हैं और वे खुश हैं कि वे इसका हिस्सा हैं।

एक दूसरे के साथ खड़ी हों महिलायें

काजोल की ही तरह 'देवी' श्रुति हसन की भी पहली शॉर्ट फिल्म है। खास बात ये है कि इस फिल्म की शूटिंग सिर्फ दो दिनों में पूरी की गई है। श्रुति ने भी फिल्म में काम करने के बारे में अपने एक्सपीयरेंस शेयर करते हुए उन्होंने बताया कि फिल्म के कॉन्सेप्ट के बारे में जानने के बाद ये उन्हें काफी पसंद आया। हम अक्सर सिस्टरहुड के बारे में बात करते हैं तो महिलाओं को एक दूसरे के साथ खड़े होने की जरूरत है, 'देवी' ने इस बात को पावरफुल मैसेज के साथ सामने रखा है और ब्यूटिफुली प्रेजेंट किया है। यह बहुत ही सेंसटिव फिल्म है और यही कारण है कि श्रुति इसका हिस्सा बनने को तैयार हुईं और डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अपनी शुरुआत करने के लिए इसे सबसे सही फिल्म मानती हैं।

शूटिंग के बाद भी साथ रहा अहसास

वहीं फिल्म से जुड़ी नेहा धूपिया ने कहा कि फिल्म की जिस बात से वे सबसे ज्यादा इंप्रेस हुईं वो ये थी कि इसके जरिए उनको बेहद शानदार एक्ट्रेसेज के साथ काम करने का मौका मिला। नेहा के हिसाब से 'देवी' वास्तव में एक ऐसी फिल्म और सब्जेक्ट है जो शूट खत्म होने साथ भी उनके दिल दिमाग पर छाया रहा। नीना कुलकर्णी के अनुसार, फिल्म की स्क्रिप्ट कई लेयर्स में है और लगातार आगे बढ़ती रहती है। वे इसका हिस्सा बनी क्योंकि यह अब तक महिलाओं पर किए गए सबसे बड़े क्राइम्स पर कड़ा प्रहार करती है।

रोकनी होगी औरतों पर हिंसा

थिएटर और टीवी एक्ट्रेस मुक्ता बर्वे ने कहा, कि इस फिल्म में बताई गई कहानी में सभी औरतों ने, चाहे वे किसी भी उम्र और सोशल क्लास की हों हिंसा का सामना किया है। इस बात को फिल्म ने हाई लाइट किया है और बताया है कि वॉयलेंस को कभी भी आइडियल नहीं माना जा सकता, इसे रोकना जरूरी है। मुक्ता फिल्म का हिस्सा बन कर बेहद खुश हैं।

नौ देवीयों का प्रतीक

नव देवियों का प्रतीक लेते हुए 'देवी' नौ पीड़ित महिलाओं की कहानी बताती है, जो समाज के अलग-अलग हिस्सों से आती हैं। ये सभी एक छोटे से कमरे में रह रही हैं। ये सभी पूरे देश से आई हैं और आपस में अपनी कहानियों को साझा करती हैं। हर कहानी एक अलग दुख और हादसे के बारे में बताती है। इसे निरंजन अयंगर और रयान स्टीफन की इलेक्ट्रिक एप्पल एंटरटेनमेंट के बैनर में बनी है और लॉर्ज शॉर्ट फिल्मस के लिए डेब्.ुटेंट प्रियंका बनर्जी ने लिखा और डायरेक्ट किया है।

Posted By: Molly Seth

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk