prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली इकोनॉमिक अफेयर्स की कैबिनेट कमेटी में बुधवार को दिल्ली-हावड़ा रूट पर इलाहाबाद से मुगलसराय के बीच 150 किलोमीटर की थर्ड लाइन बनाने स्वीकृति दी गई. इस पर करीब 2649.44 करोड़ रुपए खर्च होंगे. प्रोजेक्ट को 2023-24 तक पूरा करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

ट्रैफिक कंजेशन होगा कम
दिल्ली-हावड़ा रूट पर इलाहाबाद से मुगलसराय यानी पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन तक कंजेशन की बड़ी समस्या है. यहां ट्रेनें सबसे ज्यादा पिटती हैं. थर्ड लाइन बनने से ट्रैफिक कंजेशन कम होगा और ट्रेनें फुल स्पीड में पंक्चुअलिटी के साथ दौड़ सकेंगी. इससे छिवकी, नैनी में भी ट्रैफिक कंजेशन से राहत मिलेगी. वहीं राष्ट्रीय राजधानी को जोड़ने वाले महत्वपूर्ण रूट पर माल और यात्री गाडि़यों की पंक्चुअलिटी भी सुधरेगी. परियोजना में होने वाले निर्माण कायरें से लगभग 36 लाख मानव दिनों का प्रत्यक्ष रोजगार भी उत्पन्न होगा.

इलाहाबाद-मुगलसराय के बीच थर्ड लाइन निर्माण का प्रस्ताव एनसीआर ने रेल मंत्रालय को भेजा था. जिसे इकोनॉमिक अफेयर्स की कैबिनेट मीटिंग में स्वीकृति दे दी गई है. ट्रेनों की पंक्चुअलिटी के लिए यह योजना बहुत ही महत्वपूर्ण साबित होगी.
-अजीत कुमार सिंह, सीपीआरओ