हाईस्कूल के छात्र ने यमुना नदी में कूद कर किया सुसाइड, शव बरामद

धूमनगंज में 18 अक्टूबर को परिजन दर्ज कराए थे गुमशुदगी

PRAYAGRAJ: हाईस्कूल के छात्र आरएन सिंह (17) के जीवन में सब कुछ सामान्य चल रहा था। कुछ दिन पूर्व किसी बात को लेकर उसका दोस्तों से विवाद हुआ। इसी के बाद उसे न जाने क्या सूझी और यमुना नदी में कूद कर सुसाइड कर लिया। सोमवार को कीडगंज एरिया में किला के पास उसके कूदने की खबर किसी ने डॉयल 100 को दी। मालूम चलते ही थाना पुलिस मौके पर जा पहुंची। तलाश शुरू हुई तो वीआईपी घाट के आगे किला के पास उसका शव मिला। घाट पर पहुंचे परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

नीमसराय में रहता था किराए पर

आरएन कौशाम्बी जिले के महेवा स्थित सरसवां निवासी समर बहादुर सिंह का बेटा। दो भाइयों में बड़े आरएन को पढ़ाने के लिए पिता ने प्रयागराज भेजा था। धूमनगंज एरिया स्थित सेंट विष्णा स्कूल में वह हाईस्कूल का छात्र था। परिजन नीमसराय में उसे किराए का कमरा दिलाए थे। इसी कमरे में रह कर वह पढ़ाई किया करता था। बताते हैं कि 17 अक्टूबर को उसका कुछ दोस्तों से विवाद झगड़ा हुआ था। परिजनों की मानें तो इसी दिन दोपहर के समय वह कमरे से निकला तो वापस नहीं लौटा। मकान मालिक ने इस बात की खबर घर वालों की दी तो वह परेशान हो गए। सभी उसकी तलाश कर थक गए तो धूमनगंज में गुमशुदगी दर्ज करा दिए। परिजनों के साथ पुलिस भी उसकी तलाश में जुट गई। सभी थानों में इस बात की सूचना भी दे दी गई। इस बीच डॉयल 100 पर किसी ने खबर दी कि एक बालक वीआईपी घाट के आगे किला की तरफ यमुना में कूद गया है। मौके पर पहुंची पुलिस व गोताखोर उसकी तलाश में जुट गए। दोपहर करीब दो बजे उसका शव किला के पास पाया गया। कीडगंज पुलिस यह जानकारी धूमनगंज थाने को दी। धूमगंज पुलिस पहचान के लिए उसके परिजनों को किला पास भेज दिया। वहां पहुंचे परिजन उसके शव को देख चीख पड़े। आरएन के चाचा जय सिंह ने बताया कि छात्रों से विवाद की बात वह खुद घर में शेयर किया था। इसके बाद क्या हुआ यह किसी को नहीं पता। हालांकि वह हत्या के लिए उकसाने की आशंका भी जता रहे हैं।

परिजन छात्र की गुमशुदगी 18 अक्टूबर दर्ज कराए थे। सोमवार को कीडगंज क्षेत्र में उसका शव मिला है। उसके द्वारा सुसाइड किए जाने की बात सामने आई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

-संजय कुमार, इंस्पेक्टर धूमनगंज

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner