बंद पड़े reservation counter को खुलवाने की मांग

छात्रों ने कहा हमें भी पिलवायें RO का पानी

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों ने जुलाई में न्यू एकेडमिक सेशन 2017-18 की शुरूआत से पहले कुछ अहम मसले उठाये हैं. छात्रों ने अपनी मांगों को वाइस चांसलर प्रोफेसर आरएल हांगलू के समक्ष रखा और उनसे वार्ता की. जिसपर वीसी का रूख सकारात्मक रहा. उन्होंने सभी मसलों पर जल्द से जल्द प्लानिंग एंड एक्शन के संकेत दिये हैं. इसके लिये ऑफिसर्स को भी इंस्ट्रक्शन दिया गया है. छात्रों ने इससे रिलेटेड एक ज्ञापन भी वीसी को सौंपा है.

गुरू जी का इलाज, छात्रों को भटकना पड़ रहा

इसमें छात्रों ने इविवि के अहम मसलों में शामिल स्टूडेंट्स के इंश्योरेंस पर वीसी से प्रोग्रेस रिपोर्ट पूछी. छात्रों की मांग थी कि इविवि में पढ़ रहे प्रत्येक छात्र-छात्रा का बीमा करवाया जाये. इसकी शुरूआत नये सत्र से की जाये. गौरतलब है कि विवि में छात्रों के इंश्योरेंस की मांग लम्बे समय से पेंडिंग है. पहले यह कहा जा रहा था कि छात्रों का इंश्योरेंस करेंट सेशन से होगा. लेकिन कुछ कारणों के चलते ऐसा नहीं हो सका. दूसरा मसला छात्रों के लिये अलग से हास्पिटल के निर्माण का रहा. इसपर छात्रों का कहना था कि इविवि के शिक्षक और कर्मचारी सीजीएचएस फैसेलिटी के तहत अपना इलाज करवा लेते हैं. लेकिन अगर छात्रों को कुछ हो जाता है तो उन्हें भटकना पड़ता है.

बाक्स

यहां मिलती है हर मर्ज की एक ही दवा

इसके लिये हालिया घटनाक्रम में आत्मदाह की कोशिश करने वाले मो. जाबिर रजा इलाहाबादी का एग्जाम्पल दिया गया. जिसे गंभीर रूप से आग से झुलसने के बाद दिल्ली ले जाना पड़ा. छात्रों ने कहा कि एएन झा हास्टल में मेडिकल की सुविधा बस कहने भर को है. यहां डॉक्टर जल्दी बैठते ही नहीं और जो भी यहां दवा लेने जाता है. उसे हर मर्ज की एक ही दवा दे दी जाती है. तीसरा प्रमुख सवाल हालैंड हाल हास्टल के सामने बंद पड़े रेलवे के काउंटर को लेकर रहा. यह काउंटर पिछले दो साल से बंद है. जिससे छात्रों को रिजर्वेशन के लिये जंक्शन तक का चक्कर लगाना पड़ता है.

बाक्स

जवाब पर दागा सवाल तो बोलती बंद

छात्रों ने रिजर्वेशन काउंटर ओपन करवाने की मांग की तो उनके अधीनस्थ काम करने वाले एक सहयोगी ने तपाक से कह दिया कि काउंटर पर मारपीट हुआ करती थी. जिसपर उसे बंद किया गया. इसपर छात्रों ने भी पलटकर सवाल दाग दिया कि क्या कैम्पस के किसी डिपार्टमेंट में कोई घटना होगी तो उसे बंद कर दिया जायेगा? छात्रों के जवाब पर वीसी ने पॉजिटिव रिस्पांस दिया. आर्ट फैकेल्टी स्थित सेंट्रल लाइब्रेरी से एफसीआई भवन जाने के लिये फ्लाईओवर बनवाने की मांग की गई. यह भी कहा गया कि कैम्पस और हास्टल में छात्रों के लिये आरओ का पानी उपलब्द्ध करवाया जाये. कहा कि केवल शिक्षकों के कमरों में ही साफ जल मिल पाता है. वीसी से मिलकर वार्ता करने वालों में शोध छात्र रामबाबू तिवारी, धीरज सिंह, गौरव, जयकिशन, आदित्य कुमार, सुनील यादव, पंकज, अंकित, महेश आदि शामिल रहे.

छात्रों की मांगों को गंभीरता से लिया गया है और इस पर जल्द से जल्द कार्रवाई का निर्देश ऑफिसर्स को दिया गया है.

-प्रोफेसर आरएल हांगलू

वाइस चांसलर, एयू

Posted By: Inextlive