62.34 लाख लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाई जानी

16 हजार बच्चे और महिलाए टीकाकरण के लिए छूटे जिले में

617 एएएनएम, 212 सुपर वाइजर लगाए गए हैं अभियान सफल बनाने के लिए

-आज से शुरू हो रहा है मिशन इंद्रधनुष अभियान, पहले से चल रहा फाइलेरिया मिशन

PRAYAGRAJ: फाइलेरिया ट्रिपल डोज अभियान चलाया जा रहा है। सोमवार से मिशन इंद्रधनुष का संचालन होने जा रहा है। ऐसे में शासन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से फील्ड में उतरकर सर्वे करने को कहा है। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य देवेश चतुर्वेदी द्वारा जारी लेटर में कहा गया है कि सीएमओ, एसीएमओ और बाकी शीर्ष अधिकारी रोजाना फील्ड पर जाकर कार्यप्रणाली पर ध्यान दें। बता दें कि सोमवार से दो बड़े अभियान रन करेंगे और इनकी मानीटरिंग बेहद जरूरी है।

मिला है मौका, लगवा लो टीका

जिले में कुल 16 हजार बच्चे और महिलाए टीकाकरण के लिए छूट गए हैं। इनको दो से लेकर 12 नवंबर के बीच टीका लगवाया जाना है। इस अभियान को मिशन इंद्रधनुष का नाम दिया गया है। शासन ने इस अभियान को प्रियॉरिटी पर लिया है। तमाम स्वास्थ्य केंद्रों पर छूटे हुए बच्चों और महिलाओं को टीका लगवाया जाएगा। इसे आईएमआई 2.0 नाम दिया गया है। अभियान को सफल बनाने के लिए 617 एएएनएम और 212 सुपर वाइजर लगाए गए हैं। 16 हजार में 13 हजार बच्चे और 3 हजार गर्भवती महिलाएं शामिल की गई हैं। जिन ब्लॉकों में कम टीकाकरण हुआ है उन्हें इस अभियान में प्राथमिकता दी गई है। यहां पर तत्काल टीके लगाए जाएंगे।

सामने मौजूद रहकर खिलाएं दवा

शासन ने यह भी कहा है कि फाइलेरिया उन्मूलन के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत लोगों को सामने रहकर दवा खिलाई जाए। अभी तक आशा या एएनएम यह दवा देकर चली आती थीं। प्रमुख सचिव ने कहा कि पहली बार जिले में फाइलेरिया की ट्रिपल डोज दी जा रही है। बता दें कि प्रयागराज में 62.34 लाख लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाई जानी है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों के भरोसे न रहकर खुद फील्ड पर जाकर मॉनीटरिंग करें। इसकी रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी।

शासन एक साथ चल रहे दो बड़े अभियान को लेकर गंभीर है। प्रमुख सचिव का कहना है कि आला अधिकारी खुद फील्ड में निकलकर अभियान की मॉनीटरिंग करेंगे। फाइलेरिया की दवा स्टाफ की मौजदूगी में खिलाई जाएगी।

-डॉ। मेजर गिरिजाशंकर बाजपेई, सीएमओ प्रयागराज

Posted By: Inextlive

inext banner
inext banner