जम्मू (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर में हिमालय की गुफा वाले मंदिर की अमरनाथ यात्रा की अवधि इस साल बस 15 दिनों की होगी। यह 21 जुलाई से शुरू होकर 3 अगस्त को समाप्त होगी। इस बात की जानकारी श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड (एसएएसबी) के अधिकारियों ने दी है। एसएएसबी ही जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में समुद्र तल से 3,880 मीटर ऊपर स्थित गुफा मंदिर में यात्रा का सारा मैनेजमेंट करता है। इस अमरनाथ यात्रा के लिए शुक्रवार को प्रथम पूजा आयोजित की गई थी। कोरोना वायरस की वजह से इस बार यात्रा का समय कम रखा गया है।

मंदिर में की जाने वाली 'आरती' सीधा प्रसारण होगा

यात्रा में साधुओं को छोड़कर अन्य तीर्थयात्रियों में 55 वर्ष से कम उम्र के लोगों को ही परमीशन दी जाएगी। हालांकि अमरनाथ यात्रा करने वाले सभी तीर्थयात्रियों के पास कोरोना निगेटिव सर्टिफिकेट होना अनिवार्य होगा। इस दाैरान एसएएसबी के एक अधिकारी ने कहा, यात्रियों को जम्मू-कश्मीर में यात्रा शुरू करने की अनुमति देने से पहले वायरस की वजह से क्रॉस-चेक किया जाएगा। साधुओं को छोड़ सभी तीर्थयात्रियों को यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। 15 दिनों के दौरान गुफा मंदिर में की जाने वाली 'आरती' सीधा प्रसारण किया जाएगा।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk