नई दिल्ली (पीटीआई)। मुंबई के स्टार खिलाड़ी अमोल मुजुमदार को सोमवार को साउथ अफ्रीकी टीम का अंतरिम बैटिंग कोच नियुक्त किया है। बता दें अफ्रीका का भारत दौरा 15 सितंबर से शुरु होगा। प्रोटीज यहां पहले टी-20 और फिर टेस्ट सीरीज खेलेंगे। टेस्ट सीरीज के लिए प्रोटीज ने  घरेलू भारतीय क्रिकेटर अमोल मजूमदार से मदद ली है। साउथ अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने मजूमदार को इस दौरे के लिए अंतरिम बैटिंग कोच नियुक्त किया है।

अफ्रीकी बल्लेबाजों को देंगे बैटिंग टिप्स

दाएं हाथ के बल्लेबाज अमोल मजूमदार ने पीटीआई से बातचीत में कहा, 'पिछले हफ्ते मुझसे संपर्क किया गया था और मैंने चुनौती स्वीकार कर ली है। यह मेरे लिए बहुत अच्छा मौका है। एक इंटरनेशनल टीम के साथ जुड़ना अच्छी बात है। वह भी दक्षिण अफ्रीका जैसी टीम के लिए, यह एक बहुत बड़ा सम्मान है।' कोच बनने के बाद अमोल का कहना है, 'इसमें कोई संदेह नहीं है कि यह एक बड़ी चुनौती और जिम्मेदारी है, लेकिन मैं वास्तव में इसके लिए उत्सुक हूं। भारत में भारत को खेलना हमेशा एक बड़ी चुनौती है।" बता दें साल 2015 में अफ्रीकी टीम जब भारत दौरे पर आई थी तब प्रोटीज बल्लेबाजों को अश्विन और जडेजा के सामने खेलने में काफी दिक्कतें आई थी।

ऐसे बनाएंगे योजना

स्पिनर्स को बेहतर खेलने वाले अमोल मजूमदार कहते हैं,  2015 में दक्षिण अफ्रीकी टीम के प्रदर्शन को देखने का कोई मतलब नहीं है। तब के कई खिलाड़ी टीम से रिटायर हो चुके हैं और अब नए खिलाड़ियों की फौज तैयार हो चुकी है। ऐसे में हम पूरी तरह से तैयार हैं। यह पूछे जाने पर कि भारत में स्पिन की चुनौती के लिए वह दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों को तैयार करने की योजना कैसे बना रहा है, मजूमदार ने कहा, "मुझे अभी खिलाड़ियों से बात करनी है, लेकिन कुछ काम करना होगा। चार साल पहले और अब की बात अलग है। ये नई शुरुआत है। हर खेल एक नया खेल है और मुझे इस पर विश्वास है।'

SL vs Pak : मलिंगा सहित 10 खिलाड़ियों ने पाकिस्तान में खेलने से किया इंकार, मचा बवाल

रवि शास्त्री की कप्तानी में खेला था मैच

घरेलू क्रिकेट में अपनी बल्लेबाजी का लोहा मनवाने वाले अमोल मजूमदार ने ज्यादातर वक्त मुंबई के लिए क्रिकेट खेला। मगर असम और आंध्र प्रदेश की घरेलू टीम से भी वह क्रिकेट खेल चुके हैं। 44 साल के मजूमदार ने 48.13 की औसत से फर्स्ट क्लाॅस क्रिकेट में 11,167 रन बनाए हैं हालांकि वह भारत के लिए कभी नहीं खेल पाए। वैसे आपको जानकर हैरानी होगी कि मजूमदार आज भले ही शास्त्री की टीम के खिलाफ रणनीति बनाने जा रहे मगर एक वक्त था, जब उन्होंने रवि शास्त्री की कप्तानी में ही रणजी मैच खेला था।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk