कानपुर। पंजाब के अमृतसर में रावण दहन के दौरान धोबीघाट के निकट जोड़ा फाटक पर अमृतसर से होशियारपुर जा रही जालंधर-अमृतसर डीएमयू पैसेंजर ट्रेन गुजरी। शाम को करीब 7 बजे ट्रेन के गुजरने में महज 10-15 सेकंड का समय लगा आैर देखते ही देखते खुशियों का माहौल मातम में बदल गया। इस दौरान यहां पर बड़ी संख्या मौजूद लोगों के चीथड़े उड़ गए है। हादसे में करीब 60 से अधिक लोगों की मौत आैर करीब 70 से अधिक लोग घायल हो गए हैं।

#amritsartrainaccident के कारण अमृतसर-मनावला लाइन पर रोकी गर्इ रेल सेवा

हादसे के बाद ट्रेनों के रूट डायवर्ट किए गए

वहीं इस दर्दनाक हादसे में मृतकों की संख्या में इजाफा होने की आशंका है। हादसे के बाद अमृतसर-मनावला सेक्शन की कुछ ट्रेनों के रूट डायवर्ट कर दिए गए हैं। वहीं कुछ ट्रेनों को कुछ देर के लिए संस्पेंड कर दिया गया है। उत्तरी रेलवे के सीपीआरआे दीपक कुमार ने यह भी बताया कि अमृतसर-मनावला सेक्शन की रेल सेवा रोक दी गर्इ है। इसमें 10 मेल एक्सप्रेस ट्रेनों को आैर 27 पैसेंजर ट्रेनों को रद कर दिया गया है। वहीं 16 ट्रेनों का रूट डायवर्जन हुआ है।

सीएम ने दिया घटना के जांच के आदेश दिए
बता दें कि पंजाब में हुए इस दर्दनाक हादसे को लेकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गहरा दुख व्यक्त किया है। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने भी दुख जताते हुए रेस्क्यू ऑपरेशन और जांच के आदेश दिए हैं। हादसे के बाद पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये आर्थिक मदद तो केंद्र सरकार ने  मृतक परिवार को दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद करने की घोषणा की है।

#AmritsarTrainAccident में ड्राइवर को लेकर रेलवे की सफार्इ

#AmritsarTrainAccident में रावण का किरदार निभा रहे दलबीर सिंह की भी हुई मौत

National News inextlive from India News Desk