अमृतसर (आईएएनएस)। अमृतसर में रावण दहन के दौरान धोबीघाट के निकट जोड़ा फाटक पर करीब 700 लोगों की भीड़ रावण दहन देख रही थी। इस दौरान जिस समय विशाल पुतले का दहन हो रहा था उसी समय अमृतसर से होशियारपुर जा रही जालंधर-अमृतसर डीएमयू पैसेंजर ट्रेन शाम करीब सात बजे पटरी से गुजरी। एेसे में बड़ी संख्या में पटरी पर मौजूद लोगों के चीथड़े उड़ गए। इस हादसे में करीब 60 से अधिक लोगों की मौत आैर करीब 70 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। वहीं हादसे में मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है।

#amritsartrainaccident में ड्राइवर को लेकर रेलवे की सफार्इ

हादसे के दो मिनट पहले वहीं से गुजरी थी अमृतसर-हावड़ा मेल
हादसे को लेकर रेलवे की आेर से एक बयान जारी किया गया है। वहीं इस घटना को लेकर उत्तरी रेलवे के सीपीआरआे दीपक कुमार का कहना है कि यह दुखद घटना है। हालांकि इसमें लोको ड्राइवर की गलती नही लगती है। जहां यह हादसा हुआ है वहां से दुर्घटना होने से दो मिनट पहले अमृतसर-हावड़ा मेल गुजरी थी। प्रवक्ता दीपक कुमार ने यह भी बताया कि हादसे के बाद कई ट्रेनें रद कर दी हैं।

पंजाब सरकार व केंद्र सरकार ने किया आर्थिक मदद का एेलान

 हादसे के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अपना इजराइल दौरा रद कर दिया है। आज वह घायलों का हालचाल लेने अस्पताल पंहुचे हैं। वहीं उन्होंने मृतकों के परिजनों को  5 लाख रुपये आर्थिक मदद देने की घाेषणा की है।पीएम ने भी मृतक परिवार को दो लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद का एेलान किया है।

#AmritsarTrainAccident में रावण का किरदार निभा रहे दलबीर सिंह की भी हुई मौत

अमृतसर में रावण दहन में काल बनी ट्रेन 60 की मौत कर्इ घायल, आर्थिक मदद का एेलान, देखें अब तक का अपडेट

National News inextlive from India News Desk