फोटो सहित

गोरखनाथ एरिया के हुमायूंपुर जगेसर, चौक की घटना

घर में कहासुनी के बाद गुस्से में आकर उठाया कदम

GORAKHPUR: शादी समारोह से बेटे के विलंब से घर लौटने पर पूर्व पार्षद राम गोपाल ने मामूली कहासुनी पर खुद को गोली मार ली. सिर में गोली लगने से उनकी हालत नाजुक बनी हुई है. उपचार के लिए परिजनों ने केजीएमयू में एडमिट कराया है. घटना शुक्रवार की रात करीब साढ़े 12 बजे हुई. पुलिस का कहना है कि मामले की छानबीन की जा रही है. पड़ोस के लोगों ने पुलिस को बताया कि पूर्व पार्षद के घर में अक्सर लड़ाई-झगड़ा होता रहता था. पुलिस मान रही कि घरेलू कलह की वजह से पूर्व पार्षद ने सुसाइड की कोशिश्ा की है.

शादी समारोह से लौटा बेटा, हो गइर् कहासुनी

हुमायूपुर मोहल्ला निवासी रामगोपाल ठेकेदारी करते हैं. शुक्रवार रात वह कहीं से घर पहुंचे. घर में पत्नी मंजू त्रिपाठी सहित परिवार के अन्य सदस्य थे. तभी उनका बेटा किसी शादी समारोह में शामिल होकर घर पहुंचा. बेटे के देर से पहुंचने की बात पर राम गोपाल बिफर गए. कहासुनी होने पर उन्होंने लाइसेंसी पिस्टल निकाल लिया. पत्नी, बेटे कुछ समझ पाते. इसके पहले उन्होंने सिर में गोली मार ली. गोली चलने पर परिवार के लोग चिल्लाने लगे. पास पड़ोस के लोग भी जुट गए. किसी ने घटना की सूचना पुलिस को दी. आनन-फानन में उनको अस्पताल पहुंचाया गया. डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया.

रोजाना झगड़े की बात बता रहे थे पड़ोसी

पुलिस की छानबीन में सामने आया कि राम गोपाल को नशे की लत थी. किसी न किसी बात को लेकर उनके परिवार में अक्सर विवाद होता रहता था. वर्ष 1989 में पार्षद रहे राम गोपाल के दो बेटे, तीन बेटियां हैं. उनका बेटा अभिषेक मार्केटिंग का काम करता है. जबकि छोटा सक्षम कहीं पर प्राइवेट जॉब में है. तीन बेटियों की शादी हो चुकी है. पुलिस का कहना है कि गोली लगने से पूर्व पार्षद की हालत नाजुक बनी हुई है. घर पर ताला लगाकर परिवार के लोग लखनऊ रवाना हो गए हैं.

वर्जन

मामले की छानबीन की जा रही है. परिवार में झगड़ा होने पर पूर्व पार्षद ने खुद को गोली मार ली है. उनकी हालत नाजुक बनी हुई है. परिजनों ने उनको लखनऊ में एडमिट कराया.

विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी