नई दिल्ली (पीटीआई)। अब रेलवे स्टेशन पर हवाई अड्डों सरीखी व्यवस्था दिखेगी। इसकी शुरुआत कुंभ को देखते हुए सबसे पहले प्रयागराज रेलवे स्टेशन से की जा रही है। इसी महीने कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन पर भी यह व्यवस्था लागू की जाएगी। इसके तहत रेलवे ने स्टेशनों को सील करने की तैयारी की है।रेलवे की इस नर्इ व्यवस्था के तहत यात्रियों को ट्रेन प्रस्थान के तय समय से 20 मिनट पहले रेलवे स्टेशन पर पहुंचना होगा। जिससे इस दाैरान यात्रियों की सुरक्षा चेकिंग की प्रक्रिया पूरी की जा सके।

202 स्टेशनों पर इसे लागू किया जाएगा

इस संबंध में इंडियन रेलवे सुरक्षा बल के डीजीपी जनरल अरुण कुमार ने पीटीआई को बताया कि शुरू में देश के दो रेलवे स्टेशनों पर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर यह व्यवस्था लागू की जा रही है। सबसे पहले प्रयागराज रेलवे स्टेशन पर उच्च तकनीक के साथ इस व्यवस्था को लागू किया गया है क्योंकि यहां  कुंभ के मौके पर बड़ी संख्या में यात्री पहुंचने वाले हैं। इसके साथ ही इस व्यवस्था को कर्नाटक के हुबली रेलवे स्टेशन पर लागू किया जाएगा। इसके बाद देश के 202 स्टेशनों पर इसे लागू किया जाएगा।  

एंट्री पॉइंट पर रैंडम सिक्यॉरिटी चेकिंग

इस नर्इ व्यवस्था के तहत रेलवे स्टेशन शील हाेंगे आैर हर एंट्री पॉइंट पर रैंडम सिक्यॉरिटी चेक होगा। एेसे में हवाई अड्डों की तरह यहां भी यात्रियों को अब घंटों पहले आने की जरूरत नहीं है उन्हें ट्रेन छूटने से 15 से 20 मिनट पहले आना होगा। एेसा इसलिए ताकि चेकिंग के चलते उनकी ट्रेन न छूटने पाए। यह व्यवस्था एकीकृत सुरक्षा प्रणाली (ISS) के तहत है। इस परियोजना की अनुमानित लागत 385.06 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इसके माध्यम से यात्रियों को कर्इ सुरक्षा जांचाें से गुजरना होगा।

कुंभ के लिए 15 दिन पहले यहां से बुक कराएं टिकट, नहीं होगी दिक्कत

National News inextlive from India News Desk