- एसआरएन हॉस्पिटल में चल रहा है मरीजों का इलाज

- शुगर कोरोना पेशेंट का रखा जा रहा विशेष ख्याल

एसआरएन हॉस्पिटल में भर्ती कोरोना के मरीजों को इम्युनिटी बढ़ाने वाला भोजन दिया जा रहा है। वर्तमान में यहां पर 25 मरीज एडमिट हैं और इनमें से डायबिटिक कोरोना पेशेंट भी शामिल हैं। उनको शुगर फ्री भोजन दिया जा रहा है। बताया जा रहा है कि हाल ही में लूकरगंज के स्वर्गीय इंजीनियर की पत्‍‌नी का शुगर लेवल बढ़ गया था। जिसके चलते उनकी हालत बिगड़ने लगी। ऐसे में हॉस्पिटल प्रशासन ने शुगर फ्री डाइट की शुरुआत कर दी है। हालांकि अब इंजीनियर की पत्‍‌नी का शुगर कंट्रोल में बताया जा रहा है। सर्जरी विभाग के प्रवक्ता डा। संतोष सिंह का कहना है कि हाइपरटेंशन के मरीजों का भी पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

डायबिटिक मरीजों के लिए भोजन

- सुबह ब्राउन ब्रेड का नाश्ता दिया जाता है।

- दाल रोटी दोपहर में दिया जाता है।

- आलू और चावल का सेवन बंद कर दिया गया है।

- खाने में हरी सब्जियों का सेवन।

- बिना चीनी की चाय।

- मरीजों को पीने में काढ़ा दिया जा रहा है।

बीपी के मरीजों के लिए

- तली और चिकनी चीजों का आहार बैन।

- इम्युन सिस्टम बढ़ाने वाला भोजन।

- अधिक प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन।

सभी के लिए एक ही भोजन

सर्जरी विभाग के प्रवक्ता डा। संतोष सिंह का कहना है कि मरीजों और डॉक्टर्स के लिए एक जैसा ही खाना सर्व किया जा रहा है। इसमें किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जा रहा है। सबसे अहम मरीजों की इम्युन पावर को मजबूत करना है। खासकर डायबिटीज के मरीजों का ख्याल रखा जा रहा है। क्योंकि जरा सा शुगर लेवल अधिक हुआ तो कोरोना संक्रमण घातक साबित हो सकता है। ऐसे में मरीज के खानपान का पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

इंजीनियर की पत्‍‌नी का शुगर लेवल बढा हुआ था जो इलाज के बाद कम हो गया है। उम्मीद है वह जल्द ही स्वस्थ हो जाएंगी। हमारी ओर से मरीजों के खानपान का पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

प्रो। एसपी सिंह, प्रिंसिपल, मेडिकल कॉलेज

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner