-आई कनेक्ट

दीवाली से पहले हर साल ऐसा होता है जब शहर में जगह जगह बन रहे बम पटाखों और बारूद की वजह से ब्लास्ट होता है. ऐसा नहीं है कि प्रशासन को इसकी जानकारी नहीं होती कि कौन से एरिया में क्या हो रहा है. दैनिक जागरण आई नेक्स्ट में बुधवार को प्रकाशित इस खबर पर सोशल मीडिया पर लोगों ने कुछ इस तरह प्रतिक्रियाएं दी हैं.

ऐसा पहली बार नहीं है कि जब दीवाली से पहले इस तरह की घटना सामने आई हो. हर साल कहीं बम धमाका तो कहीं सिलेंडर फटने की घटना होती है लेकिन उसके बाद भी कोई चेतता नहीं है. इस मामले पर गंभीर होने की जरूरत है.

प्रवेश कुमार

दिवाली से पहले इस तरह की घटना होना यह बताती है कि जिले का प्रशासन ऐसी घटनाओं को लेकर कितना गंभीर है.

विनीत कुमार

मकान में विस्फोट होने की खबर पढ़कर दुख हुआ, ऐसा नहीं होना चाहिए, अगर प्रशासन गंभीर हो जाए तो ऐसी घटना हो ही न.

राजीव श्रीवास्तव

यह ब्लास्ट कई सवाल पैदा करता है. पहला ये कि लोग घरों में पटाखे और बम कैसे रख रहे हैं. और दूसरा ये कि अगर वहां पटाखे बनाने के लए बारूद रखा था तो किसके परमिशन पर.

विजय सिंह

दिवाली को देखते हुए पुलिस की छापेमारी होनी चाहिए. अगर ऐसा होता है तो यह पता लगाना आसान हो जाएगा कि कहां क्या हो रहा है.

प्रमोद पांडेय

देखा जाए तो बनारस के हर गली मुहल्ले में अभी से पटाखों की बिक्री शुरू हो गई है. अगर कोई स्टाक कर रहा है तो वहां भी विस्फोट होने का खतरा बना हुआ है.

आनंद कुमार