-शहर में ऑटो ड्राइवर का होगा वेरीफिकेशन

-अपने रूट पर कोड से पहचाने जाएंगे ऑटो चालक

GORAKHPUR: शहर में पब्लिक की सुरक्षित यात्रा के लिए ट्रैफिक पुलिस ने पहल की है. शहर के भीतर ऑटो चलाने वाले ड्राइवर्स का वेरीफिकेशन कराया जाएगा. हर ऑटो ड्राइवर को वर्दी पहनाई जाएगी. टेंपो ड्राइवर को वर्दी पहनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. चौराहों पर टेंपो ड्राइवर वर्दी पहने नजर आने लगे हैं. ट्रैफिक पुलिस के अधिकारियों का कहना है कि ऑटो ड्राइवर को वर्दी देने के साथ-साथ उनका वेरीफिकेशन कराया जाएगा जिसका रिकार्ड ट्रैफिक पुलिस के पास हरदम मौजूद रहेगा.

कोड से होगी पहचान, नहीं पाएंगे भाग

ऑटो से सफर करने के दौरान अक्सर यात्रियों का सामान चोरी होने, छूट जाने सहित कई शिकायतें सामने आती हैं. ऑटो ड्राइवर के बारे में सही जानकारी न होने से पैंसेजर्स को उनकी तलाश में भटकना पड़ता है. इससे यात्री डरे-सहमे यात्रा करते हैं. पैंसेजर्स की सुविधा और ऑटो ड्राइवर को अलग पहचान दिलाने की कोशिश हुई है. एसपी ट्रैफिक का कहना है कि यह व्यवस्था बनाई जा रही है कि सभी ऑटो ड्राइवर वर्दी पहने. उनके गले में आईकार्ड और शर्ट की जेब पर नेम प्लेट नजर आए. पुलिस का मानना है कि इससे ड्राइवर की पहचान आसानी से हो सकेगी. ऑटो में सवार होते समय यात्री उसके बारे में जान सकेंगे. इस व्यवस्था से महिला यात्री बेफिक्र होकर रात में भी आसानी से निकल सकेंगी.

पुलिस वेरीफिकेशन कराकर जुटाएंगे ब्यौरा

वर्दी पहनाने के साथ-साथ सभी ड्राइवर का वेरीफिकेशन कराया जाएगा. इस दौरान पुलिस उनके संबंध में हर तरह की जानकारी जुटाएगी. सभी ऑटो ड्राइवर का एक कोड एलाट करने की तैयारी चल रही है. जरूरत पड़ने पर कोड के जरिए ऑटो ड्राइवर को आसानी से खोजा जा सकेगा. उनका पूरा ब्यौरा ट्रैफिक पुलिस के रिकार्ड में मौजूद रहेगा. एसपी ट्रैफिक का कहना है कि वेरीफिकेशन के बाद वर्दी पहनकर ऑटो चलाने वाले ड्राइवर के वाहनों की चेकिंग नहीं की जाएगी. ट्रैफिक पुलिस के अभियान में सहयोग करने वाले ऑटो ड्राइवर्स को सम्मानित किया जाएगा.

यह होगा फायदा

-वर्दी पहनने से ऑटो ड्राइवर की पहचान आसान होगी.

-ड्राइवर के आईकार्ड और कोड से उसकी तलाश में आसानी होगी.

-वर्दी पहनने वाले ड्राइवर के वाहनों की चेकिंग में सहूलियत दी जाएगी.

-पैंसेजर की सुविधा के लिए रूट वाइज ऑटो पर नंबर दर्ज किए जाएंगे.

-रूट के हिसाब से ड्राइवर का कोड तय होगा. इसका ब्यौरा ट्रैफिक पुलिस रखेगी.

-पुलिस वेरीफिकेशन से सभी ड्राइवर्स से संबंधित जानकारी जुटाई जा सकेगी.

वर्जन-

शहर में आटो ड्राइवर्स को वर्दी पहनाने की मुहिम चलाई जा रही है. उनको निशुल्क वर्दी बांटने की तैयारी की गई है. सभी ड्राइवर का वेरीफिकेशन कराकर उनको आईकार्ड इश्यू किया जाएगा. सबका रिकार्ड मेंटेन किया जाएगा ताकि जरूरत पड़ने पर आसानी से उनकी तलाश हो सके. पैसेंजर्स की सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए कदम उठाया जा रहा है.

आदित्य प्रकाश वर्मा, एसपी ट्रैफिक