-वर्किंग टूगेदर टु प्रिवेंट सुसाइड कैंपेन के तहत आयोजित किए जा रहे कार्यक्रम

PRAYAGRAJ: भारत सरकार द्वारा मानसिक रोगों के प्रति जन जागरुकता फैलाने हेतु एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है. इसके तहत बहरिया में वर्किग टुगेदर टु प्रिवेंट सुसाइड के तहत बहरिया ब्लॉक में दिव्यांगता प्रमाणीकरण व उपचार शिविर का आयोजन शुक्रवार को किया गया. इसमें चीफ गेस्ट विधायक डॉ. जमुना प्रसाद सरोज व विशिष्ट अतिथि नोडल डॉ. वीके मिश्रा ने कार्यकम का उदघाटन किया.

सचेत रहने की दी हिदायत

कार्यक्रम में डॉ. मिश्रा ने ब्लॉक लेवल पर बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के आदेश दिए. मनोचिकित्सक डॉ. राकेश पासवान ने मानसिक रोग से ग्रस्त मरीजों का उपचार कर प्रमाण पत्र दिए. उन्होंने मरीजों को जागरुक रहने के तरीके भी बताए. नैदानिक मनोवैज्ञानिक डॉ. इशान्या राज ने 76 लोगों का मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण कर 71 का प्रमाण पत्र बनाया. मौके पर सामाजिक कार्यकर्ता जयशंकर, एपिडेमियोलाजिस्ट डॉ. सादिक अली, काउंसलर सुमन लता व प्रमोद कुमार सहित तमाम लोग उपस्थित रहे. मौके पर लगाए गए तंबाकू निषेध शिविर में 300 मरीजों का उपयार किया गया.

बॉक्स.

दोस्तों व रिश्तेदारों से साझा करें परेशानी

दूसरी ओर सीएमपी डिग्री कॉलेज में मानसिक स्वास्थ्य जागरुकता अभियान के तहत आयोजित कार्यक्रम में चीफ गेस्ट काल्विन हॉस्पिटल के सीएमएस डॉ वीके सिंह ने मानसिक स्वास्थ्य के प्रति जागरुक रहने के टिप्स दिए. मनोचिकित्सक डॉ. अजय कुमार मिश्रा ने कहा कि अवसाद ग्रस्त लोग सुसाइड का रास्ता चुन लेते हैं. ऐसे में लोगों को अपने दोस्त और रिश्ेतदारों से परेशानियों को शेयर करना चाहिए. कार्यक्रम में 300 छात्र और कॉलेज के टीचर्स और स्टाफ उपस्थित रहे.