-माहौल बिगड़ने की संभावना के चलते दोपहर तक बंद रहीं ज्यादातर दुकानें

-गली मोहल्लों में जरूरी सामान खरीदने के लिए दुकानों पर लगी भीड़

बरेली: अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसले को लेकर बरेलियंस खौफजदा रहे. शहर के मेन मार्केट किला, कुतुबखाना, सुभाषनगर आदि इलाकों में ज्यादातर दुकानें दोपहर तक बंद रहीं. माहौल बिगड़ने की संभावना के चलते व्यापारियों ने दोपहर तक इंतजार करना ही बेहतर समझा. हालांकि पुलिस और प्रशासन ने सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किए थे, बावजूद इसके मुख्य सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा. सुबह करीब 11 बजे सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद भी दोपहर तक लोग शहर के माहौल की जानकारी लेते रहे और कहीं से विवाद की कोई खबर नहीं मिलने के बाद दोपहर बाद दुकानें खुलना शुरू हुई. हालांकि इसके बाद भी दुकानों पर कस्टमर्स आम दिनों के मुकाबले आज कम ही पहुंचे.

राशन तो खरीद लें

सैटरडे को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने की खबर फ्राइडे रात टीवी चैनल्स पर देखने के बाद माहौल बिगड़ने की संभावना के चलते लोगों ने राशन और जरूरी सामान की खरीदारी शुरू कर दी. सैलानी और घनी आबादी वाले इलाकों में देर रात तक किराना की दुकानों पर लोगों की भीड़ लगी रही. वहीं सैटरडे सुबह न्यूज पेपर में खबर पड़ने के बाद गली मोहल्लों में सुबह आठ बजे से सब्जी और जरूरी सामान खरीदने के लिए लोग पहुंच गए. लोगों को इस बात का खौफ सता रहा था कि फैसले के बाद शहर में कफ्र्यू के हालात बने तो कम से कम घर में खाने के लाले न पड़ जाएं.

सवारियों के इंतजार में रहे ऑटो ड्राइवर्स

शहर के किला, सुभाषनगर, चौपुला, कुतुबखाना, सैटेलाइट आदि प्रमुख चौराहों पर भारी संख्या में ऑटो, ई-रिक्शा सुबह करीब 11 बजे तक खड़े दिखे लेकिन सवारियों का अभाव होने के कारण ऑटो ड्राइवर्स के चेहरे लटके नजर आए. हालांकि दोपहर बाद जब स्थिति सामान्य हुई बाजार भी खुला तो लोग सड़कों पर निकले. इसके बाद लोगों के ऑटो की ओर रुख किया.

Posted By: Inextlive