लखनऊ (ब्यूरो)। फैसला लोकतंत्र के प्रति लोगों के विश्वास और सम्मान को मजबूत करेगा। श्रीराम जन्मभूमि पर प्रभु श्रीराम का भव्य मंदिर श्रीराम की कीर्ति की भांति ही दुनिया के कोने-कोने में भारत की कीर्ति फैलाएगा। प्रभु श्रीराम का मंदिर राष्ट्र मंदिर के तौर पर एक भारत-श्रेष्ठ भारत के प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करेगा। श्रीराम जन्मभूमि पर सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय भारतीय विधि व्यवस्था की निष्पक्षता का सजीव प्रमाण है। प्रभु श्रीराम के धैर्य और मर्यादा का अनुसरण करते हुए शांति, सद्भाव और समरसता को दृढ़ता प्रदान कर अपने आचरण से विश्व को प्रभु श्रीराम का संदेश देने का आह्वान किया है।

-योगी आदित्यानाथ, सीएम यूपी

 

निर्णय भारत की गंगा-जमुनी संस्कृति को और भी मजबूती प्रदान करेगा। मैं भारत की न्याय व्यवस्था को नमन करता हूं। ऐतिहासिक निर्णय को पूरा देश सहज एवं सहर्ष स्वीकार कर रहा है। पूरे देश में शांति एवं सद्भाव बना हुआ है। विश्वास है आगे भी सद्भाव बना रहेगा।

-स्वतंत्र देव, भाजपा, प्रदेश अध्यक्ष

इससे देश की राष्ट्रीय एकता, अखंडता और आपसी सौहार्द को और बल मिला है। इस फैसले से ङ्क्षहदुस्तान जीता है। इस फैसले का सभी वर्गों, दलों ने स्वागत किया है जिससे न्यायिक प्रणाली में सामान्य जन के विश्वास को और मजबूती मिली है।

-केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री

lucknow@inext.co.in

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk