आगरा: अयोध्या फैसला आने पर हर तरह की स्थिति से निपटने को पुलिस प्रशासन तैयारी कर रहा है. माहौल बिगाड़ने की कोशिश करने वालों को अस्थाई जेलों में रखा जाएगा. अस्थाई जेल बनाने को जेल प्रशासन ने दो स्कूलों के नाम दिए हैं. मगर, अभी इन पर पुलिस अधिकारी सहमत नहीं हैं.

शनिवार को आ रहे फैसले को लेकर पहले से ही तैयारी चल रही थी. खुराफातियों और असामाजिक तत्वों के लिए अस्थाई जेल बनाने का प्रस्ताव जिला जेल अधीक्षक शशिकांत मिश्र ने एडीएम सिटी प्रभाकांत अवस्थी को भेजा था. उन्होंने एमडी जैन इंटर कॉलेज और क्वीन विक्टोरिया ग‌र्ल्स इंटर कॉलेज में अस्थाई जेल बनाने को कहा था. मगर, अभी इन पर पुलिस प्रशासन की सहमति नहीं बनी है. एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि अस्थाई जेल शहर के बाहरी इलाकों के स्कूलों में बनाई जाएंगी. इसके लिए शनिवार सुबह तक स्कूल चिह्नित कर लिए जाएंगे. उन्होंने बताया कि मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस ड्रोन कैमरों से निगरानी रखेगी. किसी भी तरह की असामाजिक गतिविधि पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

-------

दिन में बैठकें, शाम को बस्तियों की दौड़

पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी शुक्रवार को दिन में शांति व्यवस्था बनाए रखने को बैठकें करते रहे. तब तक फैसला आने की तारीख के बारे में जानकारी नहीं थी. शाम को जैसे ही शनिवार को फैसला आने की जानकारी हुई, सभी की रफ्तार बढ़ गई. मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस अधिकारी पैदल गश्त पर निकल लिए. इसके साथ ही शहर में पुलिस फोर्स की ड्यूटी भी लगना शुरू हो गई.

-------

सुबह तक आ जाएगा बाहर से पुलिस फोर्स

आगरा संवेदनशील जिलों में शामिल हैं. इसलिए यहां बाहर से भी पुलिस फोर्स और पैरा मिलिट्री फोर्स आ रहा है. सुबह तक यह फोर्स जिले में पहुंच सकता है. इसके बाद मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों में इसकी ड्यूटी लगाई जाएंगी.

Posted By: Inextlive