लखनऊ (ब्यूरो)। इस दौरान दुकानदारों ने जहां अपनी दुकानों पर दीए और मोमबत्तियां जलाकर अपनी खुशी का इजहार किया। वहीं, युवतियों व महिलाओं ने अपने घरों के दरवाजों पर रंगोली सजाकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया। कुछ जगहों पर बच्चों ने आतिशबाजी जलाकर इस ऐतिहासिक पल से खुद को जोड़ा।

आरती में उमड़े अयोध्यावासी

फैसला आने के बाद सार्वजनिक रूप से खुशी मनाने से बचते दिखे अयोध्यावासी शाम ढलते-ढलते रौ में आते दिखे। शाम को राम की पैड़ी में आयोजित सरयू आरती में हजारों अयोध्यावासियों ने भाग लिया और मां सरयू और भगवान श्रीराम की वंदना की। इसके अलावा नया घाट से रामकोट तक सड़क किनारे स्थित दुकानों व गलियों में लोगों ने दीये और मोमबित्तयां जलाकर माहौल को प्रकाशमय कर दिया। हालांकि, लोगों ने अपनी खुशी जाहिर करने में भी संयम बरता और सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया। लोगों का कहना था कि एक दीवाली भगवान राम के लंका से अयोध्या लौटने पर मनाई जाती है और आज भगवान राम का 27 वर्ष का वनवास खत्म हुआ है, इसलिए यह दूसरी दीवाली मनाई जा रही है।

दरवाजों पर सजाई आकर्षक रंगोली

दुकानों व घरों के सामने दीए व मोमबित्तयां जलाने के साथ-साथ घरों की युवतियों और महिलाओं ने रंग-बिरंगी रंगोली सजाकर इस ऐतिहासिक पल को यादगार बनाया। कहीं, रंगबिरंगे मोर तो कहीं फूल व दीये बेहद आकर्षक दिख रहे थे। रंगोली सजाने वाली एक युवती पूनम ने कहा कि भगवान राम हमारे अभिभावक हैं, उनके जन्मस्थान को लेकर इतना बड़ा फैसला आया है, इसलिए इस दिन को दीवाली की रूप में मनाना हमारा कर्तव्य है। वहीं, कुछ बच्चों ने फुलझड़ियां जलाकर खुशी का इजहार किया।

Ayodhya Case Verdict 2019: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सीएम योगी समेत इन नेताओं ने इस तरह जताई खुशी

भगवान रामलला को मिली नई पोशाक

श्रीरामजन्म भूमि पर मंदिर बनने का रास्ता साफ होते ही अयोध्यावासी अपने-अपने ढंग से खुशी मनाते दि खाई दिये। ऐसे ही एक अयोध्यावासी पं। कल्किराम ने श्री रामजन्म भूमि के पुजारी महंत सत्येंद्र दास को रामलला की पोशाक भेंट की। उन्होंने कहा, इस ऐतिहासिक पल पर रामलला नई पोशाक के हकदार हैं। उन्होंने इस मौके को कभी न भूलने वाला क्षण बताया। इस मौके पर सत्येंद्र दास ने कहा कि रामजन्म भूमि विवाद सदियों से जिस संताप का सबब था, फैसला उस संताप से कई गुना खुशियां लेकर आया है।

lucknow@inext.co.in

Ayodhya Case Verdict 2019: कैटेगराइज कर बनाई स्टे्रटजी,

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk