- रात में विशेष निगरानी के लिए जारी किए गए हैं निर्देश

- गुट बनाकर साथ चलने पर देना होगा संतोषजनक जवाब

GORAKHPUR: अयोध्या प्रकरण के फैसले के 72 घंटे के बाद भी कड़ी चौकसी बनी रहेगी। 15 दिसंबर तक पुलिस हर गतिविधि पर नजर रखेगी। रात में विशेष निगरानी के निर्देश दिए गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि रात में होने वाली घटनाओं से निपटने के लिए व्यापक तैयारी की गई है। इस दौरान संदिग्ध हाल में पकड़े गए लोगों को हवालात में भेजा जाएगा।

जाड़े की रात में चोरी, लूट, छिनैती सहित अन्य घटनाएं बढ़ जाती हैं। इससे निपटने के लिए एसएसपी ने प्लान तैयार किया था। उन सभी क्षेत्रों में जहां पर पूर्व में कई घटनाएं हुई हैं वहां पर पुलिस की गश्त बढ़ाने के निर्देश दिए गए थे। अयोध्या फैसले को देखते हुए इसे व्यापक रूप दिया जा रहा है। इसलिए पुलिस कर्मचारियों को रात में ज्यादा सजग रहना होगा। रात में निकलने वाली पुलिस टीम हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार होगी। किसी भी आपातकाल में तत्काल कंट्रोल रूम को सूचना देकर अतिरिक्त पुलिस मंगा सकेगी।

पूछताछ में हुआ संदेह तो पहुंच जाएंगे हवालात

पूर्व में अयोध्या प्रकरण को देखते हुए शहर के भीतर 72 घंटे का अलर्ट जारी किया गया था लेकिन इसके बाद भी पुलिस की मुस्तैदी बनी रहेगी। उन मोहल्लों में पुलिस ज्यादा एक्टिव रहेगी जहां पर किसी तरह के विवाद हो चुके हैं। इसलिए फैसले के बाद के हालात पर नजर रखी जा रही है। रविवार को तिवारीपुर एरिया के एक मोहल्ले में पथराव की सूचना को लेकर पब्लिक परेशान रही। लोगों ने एक दूसरे को कॉल कर जानकारी लेनी चाही। हालांकि बाद में पता लगा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई। ऐसे मामलों के सामने आने पर पुलिस रात में पूरी तरह से अलर्ट मोड में रहेगी। कई लोगों के एक साथ निकलने पर उनसे पूछताछ की जा सकती है। फोर व्हीलर या अन्य किसी वाहन में कोई संदिग्ध वस्तु मिलने पर विधिवत क्वेरी की जाएगी।

इन बिंदुओं पर पुलिस ले सकती है जानकारी

जिले में अगले निर्देश तक धारा 144 लागू की गई है।

इस दौरान पांच से अधिक व्यक्तियों के इकट्ठा होने पर कार्रवाई संभव है।

रात में कई लोगों के एक साथ निकलने पर आवाजाही के संबंध में पुलिस जानकारी ले सकती है।

रात में निकले लोगों के पास हॉकी, डंडा, लाठी सहित अन्य किसी तरह के उपकरण की मौजूदगी पर कार्रवाई तय है।

इतने लोग कहां से किसलिए आ-जा रहे हैं। संदेह के आधार पर पुलिस ऐसे सवाल भी पूछ सकती है।

किसी भी व्यक्ति के साथ कांच की बोतल, पेट्रोल की बोतल या अन्य कोई ज्वलनशील पदार्थ होने पर पूछताछ होगी।

इस तरह की सावधानी बरतें

जाड़े की रात में बाहरी लुटेरों, डकैतों का गैंग धावा बोलता है। ऐसे में काफी सजग रहें।

कहीं से आवाजाही करने के दौरान रात में कोई संदिग्ध मिले तो उसके बारे में पुलिस को सूचना दें।

रात में चोरी, नकबजनी सहित अन्य घटनाओं से निपटने के लिए मोहल्ले में सीसीटीवी कैमरे लगवाएं।

कई लोग एक साथ कहीं जा रहे हों तो पुलिस के पूछताछ करने पर सही और संतोषजनक जवाब दें।

रात में होने वाली घटनाओं से निपटने के लिए आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। अयोध्या प्रकरण को देखते हुए विशेष चौकसी बरती जा रही है। किसी प्रकार की संदिग्ध गतिविधि पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी।

डॉ। कौस्तुभ, एसपी सिटी

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner