नई दिल्ली (पीटीआई)Ayodhya Case Verdict 2019 अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद के राजनीतिक रूप से संवेदनशील मामले में सुप्रीम कोर्ट आज अपना फैसला सुनाने वाला है। बता दें कि देश की शीर्ष अदालत सुबह 10:30 बजे अपना फैसला सुनाएगी।

5 न्यायाधीशों की संविधान पीठ आज सुनाएगी फैसला
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5-न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने 16 अक्टूबर को 40 दिनों की मैराथन सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था। अब यह फैसला शनिवार 9 नवंबर को सामने आ रहा है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर यूपी में 11 नवंबर तक स्कूल कॉलेज बंद
अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट द्वारा शनिवार 9 नवंबर को फैसला सुनाए जाने को लेकर उत्तर प्रदेश के सभी स्कूल, कॉलेज समेत तमाम शैक्षणिक और प्रशिक्षण संस्थान 9 नवंबर से 11 नवंबर तक बंद रहेंगे। बता दें कि यह आदेश उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जारी किया गया है।

फैसले को लेकर पूरे यूपी में बढ़ाई गई कड़ी सुरक्षा व्यवस्था
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। फिलवक्त अयोध्या में 47 कंपनी पैरामिलिट्री फोर्स, 15 कंपनी पीएसी के अलावा पुलिस फोर्स को तैनात किया गया है। वहीं, खुफिया विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक फोर्स में और भी इजाफे की योजना है। इसके अलावा प्रदेश के मिश्रित आबादी वाले 17 जिलों को संवेदनशील के रूप में चिन्हित किया गया है। इन जिलों में कानपुर नगर, बहराइच, श्रावस्ती, गोंडा, अलीगढ़, मेरठ शामिल हैं। इन जिलों में खुफिया एजेंसियां लगातार अपनी नजर रख रही हैं। साथ ही खुफिया एजेंसियां शरारती तत्वों पर भी विशेष निगाह रख रही हैं।

ayodhya case verdict 2019: सुप्रीम कोर्ट आज सुबह 10.30 बजे सुनाएगा फैसला,यूपी में सोमवार तक शिक्षण संस्थान बंद

'सुप्रीम फैसले' को लेकर अयोध्या में 10 अस्थायी जेल बनाने की योजना
अयोध्या पर आने वाले 'सुप्रीम फैसले' को लेकर पुलिस ने अपनी तैयारियां लगभग पूरी कर ली हैं। फैसले के बाद अयोध्या में किसी भी स्थिति से निपटने के लिये अयोध्या पुलिस हरकत में आ गई है। डीजीपी मुख्यालय से मंजूरी मिलने के बाद अयोध्या व आसपास 10 अस्थायी जेलों को बनाने की योजना है। बताया गया कि इनमें से पांच जेलों के लिये जगह चिन्हित भी कर ली गई हैं, बाकी के लिये कवायद जारी है।

Posted By: Chandramohan Mishra

National News inextlive from India News Desk