कानपुर। रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट फैसला सुना रहा है। इस पर सोशल मीडिया पर देश की जानी मानी हस्तियों की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। सभी ने फैसले को खुले मन से स्वीकार करने व शांति व सौहार्द बनाए रखने की अपील की है।

पीएम मोदी ने आयोध्या फैसले पर भाईचारा बनाए रखने को कहा

यह फैसला न्यायिक प्रक्रियाओं में जन सामान्य के विश्वास को और मजबूत करेगा। हमारे देश की हजारों साल पुरानी भाईचारे की भावना के अनुरूप हम 130 करोड़ भारतीयों को शांति और संयम का परिचय देना है। भारत के शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व की अंतर्निहित भावना का परिचय देना है। देश के सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या पर अपना फैसला सुना दिया है। इस फैसले को किसी की हार या जीत के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए। रामभक्ति हो या रहीमभक्ति, ये समय हम सभी के लिए भारतभक्ति की भावना को सशक्त करने का है। देशवासियों से मेरी अपील है कि शांति, सद्भाव और एकता बनाए रखें।

 


अमित शाह बोले सुप्रीम कोर्ट का फैसला मील का पत्थर
गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा,  'मुझे पूर्ण विश्वास है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिया गया यह ऐतिहासिक निर्णय अपने आप में एक मील का पत्थर साबित होगा। यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा।'

 


लोगों के सालों तक धैर्य रखने पर कृतज्ञता जताई
उन्होंने आगे कहा, 'श्री राम जन्मभूमि कानूनी विवाद के लिए प्रयासरत, सभी संस्थाएं, पूरे देश का संत समाज और अनगिनत अज्ञात लोगों जिन्होंने इतने वर्षों तक इसके लिए प्रयास किया है मैं उनके प्रति कृतज्ञता व्यक्त करता हूं।'


'सुप्रीम कोर्ट के फैसले का मैं स्वागत करता हूं'
कहा, 'श्रीराम जन्मभूमि पर सर्वसम्मति से आये सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का मैं स्वागत करता हूँ। मैं सभी समुदायों और धर्म के लोगों से अपील करता हूँ कि हम इस निर्णय को सहजता से स्वीकारते हुए शांति और सौहार्द से परिपूर्ण ‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ के अपने संकल्प के प्रति कटिबद्ध रहें।'

सुप्रीम कोर्ट का फैसला अंतिम
गृह मंत्री आगे बोले, 'दशकों से चले आ रहे श्री राम जन्मभूमि के इस कानूनी विवाद को आज इस निर्णय से अंतिम रूप मिला है। मैं भारत की न्याय प्रणाली व सभी न्यायमूर्तियों का अभिनन्दन करता हूं।'

फरहान ने की शांति बनाए रखने की अपील
फरहान अख्तर ने ट्वीट कर लिखा, 'आप सभी से ये अनुरोध है कि कृपया आयोध्या केस पर आज सुप्रीम कोर्ट के वर्डिक्ट को एक्सेप्ट कर लें। इसे खुशी से एक्सेप्ट करें, इसका फैसला आपके साथ हो या फिर आपके खिलाफ। हमारे देश को इस मुद्दे से आगे बढ़ने की आवश्यकता है। जय हिंद...'


चेतन भगत बोले भगवान शांति भंग करना नहीं चाहता
वहीं चेतन भगत ने भी ट्वीट कर लिखा, 'चाहे कुछ भी हो जाए, कोई भी भगवान लोगों की शांति को भंग करना नहीं चाहता। इसलिए जो जैसा है वैसा ही रहने दें। #AyodhyaVerdict'

'ह' से हिंदू 'म' से मुसलमान, हम से सारा हिंदुस्तान
गीता फोगट ने भी कोर्ट के फैसले को सर्वोपरी बताते हुए ट्वीट कर लिखा, 'रघुपति राघव राजा राम... ''ह" से हिंदू, "म" से मुसलमान और हम से सारा हिंदुस्तान। जय श्री राम'



आधुनिक भारत का सबसे बड़ा विवादित मामला

पत्रकार बरखा दत्त ने भी आयोध्या जमीन विवाद पर ट्वीट कर लिखा, 'राम लल्ला को विवादित जमीन मिलि और मशजिद को किसी वैकल्पिक जगह पर बनने के लिए प्लाॅट दिया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने आयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता कानूनी तौर पर साफ कर दिया है। ये माॅर्डन इंडिया के सबसे बड़ा विवादित मामला है। #AyodhyaVerdict'

 

Posted By: Vandana Sharma

National News inextlive from India News Desk