- प्रशासन ने यात्रियों को पड़ावों पर रोका, बारिश के कारण शुरू नहीं हो पाया हाईवे को खोलने का काम

dehradun@inext.co.in
DEHRADUN : सुरक्षा की दृष्टि से यात्रियों को बदरीनाथ, पांडुकेश्वर, गोविंदघाट व जोशीमठ में यात्रा पड़ावों में रोका गया है. सड़क बंद होने के चलते बदरीनाथ में 1200 यात्री रोके गए हैं. जबकि बदरीनाथ जाने वाले 300 यात्री सड़क खुलने का इंतजार कर रहे हैं. एसडीएम जोशीमठ अनिल कुमार चन्याल ने बताया कि लगातार हो रही बारिश के चलते हाईवे खोलने का काम शुरू नहीं हो पा रहा है.

पहाड़ी से गिर रहा मलबा और पत्थर
फ्राइडे को चमोली जिले में सुबह से ही रुक रुककर बारिश होती रही. पांडुकेश्वर व बदरीनाथ धाम में दोपहर बाद झमाझम बारिश हुई. बारिश के चलते ऋषिकेश बदरीनाथ हाईवे पर लामबगड़ भूस्खलन जोन में पहाड़ी से मलबा व बोल्डर आ गए. जिससे शाम साढ़े चार बजे हाईवे अवरुद्ध हो गया था. बारिश और पहाड़ी से लगातार मलबा और पत्थर गिरने के कारण हाईवे को खोलने का काम शुरू नहीं हो पाया है. सड़क बंद होने के कारण बदरीनाथ धाम से वापस आने वाले करीब 1200 यात्री धाम में ही रुके हुए हैं. जो यात्री बदरीनाथ धाम से नीचे आ गए थे उन्हें लामबगड़ में रोका गया है. जबकि धाम जाने वाले 300 के करीब यात्रियों को जोशीमठ, गो¨वदघाट व पांडुकेश्वर में रोका गया है. जोशीमठ में उपजिलाधिकारी अनिल कुमार चन्याल ने बताया कि हाईवे खोलने के लिए बारिश बंद होने का इंतजार करना पड़ रहा है. क्योंकि बारिश के दौरान लगातार पहाड़ी से पत्थर व मलबा गिर रहा है.