क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : राजधानी में वार्ड नंबर 8 कोकर में न्यू कॉलोनी बनी बसी है. यह रांची हजारीबाग रोड के बगल में स्थित है. इतने महत्वपूर्ण प्लेस पर रहने वाले लोगों की समस्या बारिश में विकराल हो जा रही है. बरसात होते ही यहां के कई इलाके पानी से भर जा रहे हैं, नालियों में कचड़ा जमा हो जा रहा है. इस बाढ़ जैसे हालात में कॉलोनी के लोगों का घर जाना मुश्किल हो रहा है. इस कॉलोनी में नालियों और रोड को डाउन करके बनाया गया है. इस कारण बारिश में पानी का लेवल बढ़ जाता है. पानी निकलने की बहुत अधिक जगह नहीं होने के कारण सड़क पर बरसात का पानी बहता रहता है.

सड़क पर जमा रहता है पानी

न्यू कॉलोनी की सड़क पर पानी का जमाव हमेशा बना रहता है. जैसे ही बारिश होती है सड़क पर बाढ़ जैसा नजारा बन जाता है. इसके कारण यहां कई लोगों के घरों में पानी घुस आता है. लगातार बारिश होने पर कॉलोनी के लोगों को अपने घर तक पहुंचने में भी काफी दिक्कत फेस करनी पड़ती है. यहां यह समस्या लोगों को हर साल बरसात में झेलनी पड़ रही है.

कचड़े के बगल में होता है इलाज

वार्ड नंबर 8 में ही शैंफ र्ड हॉस्पिटल भी है. इस हाइटेक हॉस्पिटल के पीछे कचरे का अंबार इस कदर फैला है कि कोई भी बीमारी की चपेट में आ सकता है. बारिश के समय सबसे अधिक कचरा सड़क पर बहने लगता है. देर तक बरसात होने के दौरान जितना भी गंदगी आसपास रहती है वह सड़क पर फैल जा रही है. जिसके कारण पूरा नाली जाम हो जाती है. और यह समस्या कई दिनों तक बनी रहती है.

स्कूली बच्चों को होती है परेशानी

न्यू कॉलोनी में रहने वाले जो बच्चे पैदल स्कूल जाते हैं उनके लिए बड़ी परेशानी बन जाती है. जब बारिश होती है तो सड़क पर ही पूरा कचरा और बारिश का पानी जमा हो जाता है, जिसके कारण वह अपने घर से पैदल रांची हजारीबाग सड़क तक नहीं पहुंच पाते हैं. लोगों ने कई बार अपने वार्ड पार्षद को भी इस समस्या से अवगत कराया लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया गया.