-पुलिस के फूले हाथ पांव, मोबाइल की लोकेशन से खोजबीन में जुटी

-वेडनसडे को मेडिकल बोर्ड पीडि़त का इंतजार करता रहा

BAREILLY : गुलडि़या धर्मातरण प्रकरण में वेडनसडे को एक नया मोड़ आ गया. खतना कराकर धर्मातरण करने का आरोप लगाने वाला युवक मेडिकल परीक्षण कराने से पहले ही पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया. इससे थाना पुलिस के हाथ पांव फूल गए. पूरे थाना की पुलिस युवक की तलाश करती रही, लेकिन देर शाम तक उसका कोई सुराग नहीं लग सका. पुलिस अब उसकी तलाश मोबाइल लोकेशन से करने में जुटी है. आरोप है कि पुलिस ने रिपोर्ट लिखाने के बाद पीडि़त को तरह-तरह से प्रताडि़त करने का प्रयास किया था, जिससे घबराकर वह मेडिकल होने से पहले ही भाग गया.

मेडिकल बोर्ड करता रहा इंतजार

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में पूरे दिन मेडिकल बोर्ड युवक का इंतजार करता रहा. जब यह बात पता चला कि पीडि़त फरार हो गया तो पुलिस के हाथ पांव फूल गए. बताते हैं थाने के एसआई जगविंदर सिंह पीडि़त का मेडिकल परीक्षण कराने ले गए थे. बरेली पहुंचने के बाद युवक पुलिस को चकमा देकर भाग गया. अब एसआई नौकरी की दुहाई देकर उसे वापस आने की बात फोन पर कर रहे हैं. जिसकी कॉल रिकॉर्डिंग शायद युवक ने ही वायरल की है. अब सिरौली पुलिस युवक को उसके मोबाइल लोकेशन के आधार पर तलाशने का प्रयास कर रही है. पुलिस ने उसकी मोबाइल लोकेशन ट्रेस कराई है, पूरे दिन थाने में इसको लेकर हड़कंप मचा रहा. इसके बाद भी थाने में कोई भी कुछ बताने को तैयार नहीं था. फिलहाल पीडि़त ने एक एसआई से फोन पर हुई बातचीत का ऑडियो वायरल किया है, जिसमें वह पुलिस पर प्रताडि़त करने का आरोप लगा कर भागने की बात कह रहा है.

युवक को एक एक एसआई के साथ मेडिकल परीक्षण को भेजा था. ट्यूजडे को उसका परीक्षण नहीं हो सका तो वह घर चला गया था. सुबह आने की बात कही थी, लेकिन नहीं लौटा. वह वादी है. हम उसको कस्टडी में नहीं रख सकते. वह आ जाएगा तो उसका मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा.

सोमप्रकाश, कोतवाल सिरौली