यूनियन बैंक से मांगा गया रात 11 बजे पैसा निकालने वाले का बायोडाटा

देर रात एजीएस के कोआर्डिनेटर की तहरीर पर दर्ज की गई रिपोर्ट

PRAYAGRAJ: मम्फोर्डगंज फौव्वारा चौराहे के पास स्थित यूनियन बैंक के एटीएम से पैसा लूटने वालों की टोह में पुलिस देर रात तक जुटी रही. अधिकारियों ने एटीएम बूथ के अंदर लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला. हालांकि फुटेज में पुलिस को लुटेरों के कुछ खास क्लू नहीं मिले. अब पुलिस की जांच एटीएम से रात 11 बजे पैसा निकालने वाले शख्स पर टिक गई है. पुलिस ने बैंक के अधिकारियों से लास्ट ट्रांजेक्शन करने वाले का बायोडाटा मांगा है. उधर, देर रात एजीएस कंपनी के कोआर्डिनेटर आलोक श्रीवास्तव की तहरीर पर कर्नलगंज थाने में अज्ञात लुटेरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई.

ट्रांजेक्शन बाद बंद हो गई मशीन

घटना की जांच में जुटी पुलिस को शक है कि रात में लास्ट ट्रांजेक्शन करने वाले व्यक्ति से लुटेरों के अहम सुराग मिल सकते हैं. पुलिस सूत्रों की मानें तो इस शक के पीछे एक अहम वजह है. दरअसल इस ट्रांजेक्शन के बाद एटीएम बंद हो गई थी. पुलिस यह पता लगाना चाह रही है कि उसके द्वारा पैसा निकालने के बाद मशीन बंद कैसे हो गई. यही नहीं जांच में जुटी पुलिस ने एटीएम में पैसा डालने वाली सेक्योर एजेंसी के दो कर्मचारियों से भी घंटों पूछताछ की.

बाक्स

कैमरे में 11 बजे तक का ही फुटेज

पुलिस एजीएस कंपनी के करीब आधा दर्जन कर्मचारियों से भी सवाल जवाब की. सूत्र यह भी बताते हैं कि एटीएम बूथ के अंदर लगे सीसीटीवी में बुधवार रात 11 बजे तक के ही फुटेज हैं. इस लास्ट ट्रांजेक्शन के बाद मशीन के साथ सीसीटीवी कैमरा भी बंद हो गया था. लास्ट ट्रांजेक्शन करने वाले व्यक्ति पर पुलिस के शक की यही वजह है. घटना को लेकर पुलिस ने बैंक के अधिकारियों से भी जानकारी जुटाई. देर रात तक पुलिस मामले की छानबीन में जुटी रही.

एटीएम संचालक एजीएस कंपनी के लोकल कोआर्डिनेटर ने अज्ञात लुटेरों के खिलाफ तहरीर दी है. मामले में रिपोर्ट दर्ज जांच की जा रही है. एजीएस व पैसा लोड करने वाली कंपनी के कई कर्मचारियों से पूछताछ की गई है. जरूरी चीजें जुटाई जा रही हैं.

सत्येंद्र सिंह, इंस्पेक्टर, कर्नलगंज थाना