- चुनाव लड़ने और पार्टी ज्वाइन करने पर अभी संशय बरकरार

PATNA :

पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय शनिवार को जेडीयू के कार्यालय पहुंचे। मीडिया कर्मियों ने उनसे पूछा कि क्या पार्टी ज्वाइन करने के लिए आए हैं, तो उन्होंने कहा कि नहीं, मैं तो मुख्यमंत्री का धन्यवाद व्यक्त करने आया था। उनके साथ काम किया था। उनका सहयोग रहा, इसलिए उनका धन्यवाद करने आया था।

कोई राजनैतिक बात नहीं हुई

पाण्डेय ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ राजनैतिक कोई बात नहीं हुई है। उन्होंने मुझे काम करने की पूरी स्वतंत्रता दी। पूरा आशीर्वाद दिया। इस पर उनका आभार व्यक्त करने आया था। मैं तो प्राइवेट आदमी हूं। स्वतंत्र हूं। कहीं पर भी आ जा सकता हूं।

चुनाव लड़ने पर कोई फैसला नहीं लिया

जब उनसे सवाल पूछा कि कहां से चुनाव लड़ रहे हैं। कौन-सी पार्टी ज्वाइन कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि इस बारे में अभी कोई फैसला नहीं लिया है।

हाल ही में लिया है वीआरएस

ज्ञात हो कि पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर ने आदर्श आचार संहिता लागू होने से पहले ही वीआरएस ले लिया है। इसकी प्रदेश सरकार ने अधिसूचना भी जारी कर दी है। उनके वीआरएस के पीछे उनका जेडीयू से चुनाव लड़ना माना जा रहा है। लेकिन उन्होंने इस विषय पर अभी तक कुछ भी नहीं बोला है। सवालों के जबावों को टाल ही रहे हैं। संभावना है कि वे बक्सर से विधानसभा का चुनाव लड़ सकते हैं। यह भी कयास लगाए जा रहे है कि वे लोकसभा का चुनाव भी लड़ सकते हैं। लेकिन अभी तक स्थिति साफ नहीं हो सकी है। अभी तो केवल अटकलें ही लगाई जा रही हैं।