PATNA: कोरोना जैसी बीमारी दुनिया में कभी किसी ने नहीं देखी होगी। इसमें खुद को बचाते हुए दूसरे की मदद करने की चुनौती थी। ऐसा कैसे किया जा सकता है, इसका उदाहरण स्वयंसेवकों ने दिया। यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख नरेंद्र ठाकुर ने संवाद दर्शन के कोरोना सेवा विशेषांक के विमोचन कार्यक्रम में कही।

25 तरह की सेवाएं की गई

पटना के विश्व संवाद केंद्र में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नरेंद्र ने बताया कि शुरू के कुछ दिन तक असमंजस की स्थिति थी। मगर धीरे-धीरे लोग सामने आने लगे। समाज द्वारा लगभग 25 तरह की अलग-अलग सेवाएं की गई। धन्यवाद ज्ञापन संस्था के अध्यक्ष प्रकाश नारायण सिंह उर्फ छोटे बाबू और संचालन विश्व संवाद केंद्र के संपादक संजीव कुमार ने किया। पद्मश्री बिमल जैन, उद्यमी अभिषेक ओझा, आरएसएस के क्षेत्र कार्यवाह डॉ। मोहन सिंह, सह क्षेत्र प्रचारक रामनवमी प्रसाद, दक्षिण बिहार के प्रांत प्रचारक राणा प्रताप आदि मौजूद थे।