ये दोनों लुटेरे जीआरपी पटना जंक्शन के हत्थे चढ़ गए. जीआरपी ने पहले तो शक के आधार पर पूछताछ शुरू की. बाद में कड़ाई से पेश आने पर हर चीज का खुलासा हो गया.
चोरी की दो गाड़ी भी बरामद
जीआरपी इंस्पेक्टर राम पुकार सिंह ने बताया कि दोनों के पास से चोरी की दो बाइक्स भी बरामद हुई हैं. इनमें एक पैशन प्रो और दूसरा स्पेलेंडर प्लस है. राजू ने अपने कन्फेशन में कहा है कि तीन महीने में उसने पूरे शहर से 29 बाइक्स चुराए हैं. चुराई गई बाइक्स को पटना के निकटवर्ती शहरों में बेच देता था. राजू चोरी के मामले में पहले भी जेल जा चुका है. वहीं गुड्डू अभी चोरी के धंधे की शुरुआत की थी और धरा गया. ये सब बाइक चोरी करने के बाद आनन-फानन में उसका नंबर प्लेट बदल देता था. बाकी काम बाद में आता था.