नए साल से सभी स्कूलों में टीचर्स के लिए अनिवार्य होगी व्यवस्था

एमडीएम का डाटा फीड नहीं होने पर संबंधित स्कूलों पर होगा एक्शन

छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र : जिला शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक राजस्थान उच्च विद्यालय में गुरुवार को आयोजित हुई. इसमें मुख्य रूप से ई-विद्यावाहिनी योजना तथा स्कूल विलय की समीक्षा की गई तथा कई निर्देश दिए गए. बैठक में जिला शिक्षा पदाधिकारी शिवेंद्र कुमार ने स्पष्ट रूप से कहा कि स्कूलों में अब बायोमीट्रिक्स हाजिरी बनाना अनिवार्य हो गया है.

कोताही पर एक्शन

नए साल से शिक्षकों का वेतन इसी पर निर्भर रहेगा. इस कारण इस सिस्टम से हाजिरी बनाने में बिलकुल कोताही न करें. इसके लिए शिक्षकों को आवश्यक निर्देश दिए जा चुके हैं. ई-विद्यावाहिनी में एमडीएम के डाटा को फीड कर लें. 15 दिसंबर तक अगर डाटा फीड नहीं तो संबंधित स्कूल पर कार्रवाई होनी तय है. उसके बाद स्कूल के विलय पर चर्चा हुई.

16 तक स्कूल मर्जर की हो प्रक्रिया पूरी

बताया गया कि प्रखंड वार उपलब्ध सूची का सत्यापन कर स्कूलों की विलय की सूची को जिला मुख्यालय 16 दिसंबर तक हर हाल में उपलब्ध करा दें. ताकि इस पर आगे कार्य किया जा सके. बैठक में जिला शिक्षा अधीक्षक बृजमोहन कुमार, एपीओ अखिलेश कुमार, सभी प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी तथा सभी प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी उपस्थित थे.