- मुलायम मोदी से सीखें, कैसे मनाया जाता है जन्मदिन

- आजम खां भरोसे लायक नहीं, ताज निजी संपत्ति नहीं

द्दह्रक्त्रन्य॥क्कक्त्र : ऐसा दोस्त भला कौन रखना चाहेगा, जो अपने ही दोस्त की जड़ में मट्ठा डालने का काम करे. आजम खां इस समय सपा के लिए वही काम कर रहे हैं. ऐसा दोस्त मुलायम सिंह यादव को ही मुबारक हो. ताजमहल पर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए. वह देश का गौरव है, किसी की निजी संपत्ति नहीं. आजम खां सदन में कुछ और कहते हैं और बाहर कुछ और. उनकी बात विश्वास लायक नहीं है. समाजवादी पार्टी?के नेता आजम खां पर ये जबानी वार किया भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने. वे मंडे को गोरखपुर में जर्नलिस्ट्स से मुखातिब थे. पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर कार्यकर्ताओं से मंत्रणा करने आए बाजपेयी ने मुलायम सिंह यादव पर भी निशाना साधा.

मोदी से सीखें मुलायम

डॉ. बाजपेयी ने सपा सुप्रीमो को मोदी से सीख लेने की सलाह देते हुए कहा कि प्रदेश की जनता त्रस्त है. गरीबों के पास दो जून खाने तक के लिए नहीं है. ऐसे में प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने पिता का राजसी जन्मदिन मना रहे हैं. देश या प्रदेश के मुखिया को अपनी खुशी कैसे मनानी चाहिए, यह सीखना हो तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सीखे. उन्होंने अपना जन्मदिन कश्मीर बाढ़ पीडि़तों के साथ बिताया और उनके सुख-दुख में शामिल हुए. मोदी जी ने जन्मदिन पर सरकारी धन का दुरूपयोग नहीं किया.

सहकारी समितियों का चुनाव भी लड़ेगी बीजेपी

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता केंद्र सरकार की योजना को जनता के बीच पहुंचाने का काम करें. पिछली बार पूरे प्रदेश में मात्र महराजगंज पंचायत से भाजपा जीती थी, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होना चाहिए. भाजपा पंचायत के साथ ही साथ सहकारी समितियों का भी चुनाव लड़ेगी. बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष शिव प्रताप शुक्ल ने कहा कि सहकारिता में रूचि रखने वाले कार्यकर्ताओं को पार्टी चुनाव लड़ाएगी. पंचायत प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक लल्लन त्रिपाठी ने बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारियों से सुझाव मांगे.