आंखें गुरु नानक आई सेंटर को दान हुर्इं
नई दिल्ली (आईएएनएस)।
दिल्ली के बुराड़ी में बीते रविवार को एक ही परिवार के 11 सदस्यों के शव पाए गए थे। इनमें 10 शव छत पर लगे लोहे के जाल से लटकते मिले थे आैर परिवार की सबसे बुजुर्ग महिला का शव जमीन पर पड़ा मिला था।अभी तक किसी इस मामले में मौतों को लेकर कोर्इ स्पष्ट कारण सामने नहीं आया है लेकिन घर पर कुछ नोट्स मिलने से इस मामले को धार्मिक अंधविश्वास से भी जोड़कर देखा जा रहा है। वहीं कल इन सभी शवों की आंखें एक नेत्र बैंक आंखें गुरु नानक आई सेंटर को दान की गईं।

हाथ से लिखे हुए नोट्स हुए थे बरामद
एेसे में मृतकों के संबंधियों का कहना है कि यह परिवार हमेशा दूसरों की मदद करना चाहता था। इसलिए उनकी आंखें दान होने से वे मरकर भी 22 लोगों की मदद कर सकते हैं। एक जोड़ी आंखें दो लोगों की आंखों में रौशनी दे सकती हैं। वहीं शवों को कल मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज से दाह संस्कार के लिए निगमबोध घाट ले जाया जाएगा। दिल्ली पुलिस इस मामले की सभी संभव कोणों से जांच कर रही है। पुलिस को घटनास्थल वाले दो मंजिला घर से पूजा स्थान के पास से हाथ से लिखा हुआ एक नोट बरामद हुआ है।

धार्मिक कोण से भी जोड़कर हो रही जांच
इसके अलावा आैर भी कुछ नोट्स बरामद हुए हैं। इन नोट्स को पढ़ने के बाद इस पूरे घटनाक्रम को धार्मिक कोण से भी जोड़कर जांच की जा रही है। पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि मृतकों में ललित नाम का शख्स काफी पूजा पाठ करता था। बता दें कि रविवार को 10  शव लटके हुए मिले थे। इसमें से ज्यादातर के आंखों पर पट्टी थी।मुंह पर भी पट्टी लगी थी और उनके हाथ पीछे बांधे हुए थे। परिवार की सबसे बुजुर्ग सदस्य नारायण देवी (77) का शव सिर्फ जमीन पर मिला था। उनके शव पर गला घोटने के निशान मिले हैं।

इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैली

मृतकों में नारायण देवी की बेटी प्रतिभा (57), उनके दो बेटे भावेश (50) और ललित भाटिया (45) के शव लटके मिले थे। भावेश की पत्नी सविता (48) और उनके तीन बच्चे - मीनू (23), निधि (25) और ध्रुव (15),  ललित भाटिया की पत्नी टीना (42) और उनके 15 वर्षीय बेटे शिवम भी लटके थे। प्रतिभा की बेटी प्रियंका (33)  का शव भी लटका पाया गया था। बता दें कि पुलिस इस मामले को हत्या आैर आत्महत्या दोनों ही मामलों से जोड़कर इसकी जांच कर रही हैं। इस घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैली है।

बुराड़ी डेथ मिस्ट्री : रिश्तेदारों ने किया आत्महत्या से इनकार, बोले धार्मिक था लेकिन अंधविश्वासी नहीं था ये परिवार

दिल्ली में एक घर में मिले 11 लोगों के शव, सुबह दुकान न खुलने पर पड़ोसियों को हुआ था शक

Crime News inextlive from Crime News Desk