रांची: रांची के कांके में छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म और हैदराबाद में डॉक्टर से सामूहिक दुष्कर्म के बाद जलाने के खिलाफ रांची में लोगों का गुस्सा सड़कों पर दिखा। गुस्साए लोगों ने कैंडल मार्च निकाला। यह कैंडल मार्च अलग-अलग बैनर तले निकाला गया। राजपूताना एकता मंच, एबीवीपी और नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स मार्च में शामिल हुए। सभी ने इस मामले में जल्द से जल्द न्याय देने की मांग की। सदस्यों ने रेप जैसे जघन्य अपराध के लिए कठोर से कठोर कानून बनाने की भी मांग की।

दोषियों को जल्द हो फांसी

राजपूताना एकता मंच की ओर से निकाले गए कैंडल मार्च में कई डॉक्टर्स भी शामिल हुए। यह मार्च रांची विवि से निकलकर अल्बर्ट एक्का चौक पहुंचा जहां सभी सदस्यों ने फास्ट टै्रक पर मुकदमा चलाकर दोषियों को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग की। सभी सदस्यों ने स्व। प्रियंका रेड्डी को श्रद्धासुमन अर्पित किया और सभी बेटियों को सुरक्षा उपलब्ध कराने की मांग की।

सीएम हाउस के पास जुटान

वहीं एबीवीपी के सदस्यों और नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने भी अपना-अपना विरोध दर्ज कराया। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के सदस्यों ने सीएम हाउस और राजभवन के समक्ष एकजुट होकर इस मामले में जल्द से जल्द इंसाफ देने की मांग की। यूनिवर्सिटी के सदस्यों ने कहा कि कांके में लॉ स्टूडेंट के साथ ऐसी बर्बरता की गई। यदि यहां सुरक्षा के इंतजाम होते तो ऐसी घटना नहीं घटती। एबीवीपी के सदस्यों ने डीसी ऑफिस में धरना के माध्यम से अपनी बाते प्रशासन तक पहुंचाने का प्रयास किया।

Posted By: Inextlive